राजनीति

Mamta Banerjee worshiped Kashi Vishwanath | ममता बनर्जी ने बाबा विश्वनाथ का किया पूजन, हर-हर महादेव का उद्धोष भी किया

open-button


पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी वायदे के तहत वाराणसी के शिवपुर विधानसभा क्षेत्र के ऐड़े गांव में सपा गठबंधन की साझा जनसभा को संबोधित करने के बाद बाबा दरबार पहुंची। वहां उन्होंने सविधि दुग्धाभिषेक किया। ममता को मुख्य अर्चक आचार्य श्रीकांत मिश्रा ने षोडषोपचार विधि से पूजन अर्चन कराया।

वाराणसी

Updated: March 03, 2022 05:42:15 pm

वाराणसी. समाजवादी पार्टी गठबंधन की संयुक्त जनसभा को संबोधित करने के बाद पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी गुरुवार को दोपहर बाद श्रीकाशी विश्वनाथ धाम पहुंची। उन्होंने बाबा का जलाभिषेक और दुग्धाभिषेक करने के साथ ही षोडशोपचार पूजन किया। पूजन-अर्चन आचार्य श्रीकांत मिश्रा के आचार्यत्व में सम्पन्न हुआ।

काशी विश्वनाथ का दर्शन पूजन करने के बाद ममता बनर्जी

काशी विश्वनाथ का दर्शन पूजन करने के बाद ममता बनर्जी

गर्भगृह से निकलने के बाद ममता बनर्जी ने परिसर में विराजमान माता पार्वती, माता अन्नपूर्णा और कनाडा से वापस आई मां अन्नपूर्णा के प्रतिमा का भी दर्शन किया। साथ ही कुंआ का भी दर्शन किया। इस दौरान उन्होंने मंदिर परिक्षेत्र में मौजूद दर्शनार्थियों का हाथ जोड़कर अभिवादन स्वीकार किया और हर-हर महादेव का जयघोष भी किया।

ये भी पढें- UP Assembly Elections 2022: पीएम के गढ़ में बोलीं ममता यूपी में बहन, बेटियों का सम्मान नहीं, किया शंखनाद बीजेपी तो हार गई काशी विश्वनाथ का दर्शन पूजन करने के बाद ममता बनर्जीबता दें कि पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने अपने 7 फरवरी के लखनऊ दौरे पर ही कहा था कि ‘मैं वाराणसी भी जाऊंगी और शिव मंदिर में दीया भी जलाऊंगी। मैं जानती हूं कि वाराणसी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का संसदीय क्षेत्र है, लेकिन कोई भी कहीं भी जाने के लिए स्वतंत्र है। मैं चाहती हूं कि उत्तर प्रदेश के विधानसभा चुनाव में सपा की जीत हो।
ये भी पढें- UP Assembly Elections 2022: ममता का बनारस पहुंचने पर बीजेपी और हिंदू वाहिनी कार्यकर्ताओं ने किया विरोध यहां ये भी बता दें कि काशी आने के बाद ममता बनर्जी ने पहले मां गंगा का पूजन किया। हालांकि वो पैरों में तकलीफ के चलते गंगा किनारे तक नहीं जा सकीं पर उनके नाम से संकल्प लेकर पुरोहितों ने पूजन कराया। फिर आज उन्होंने श्री काशी विश्वनाथ के दरबार में मत्था टेका।
newsletter

अगली खबर

right-arrow





Source

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Most Popular

To Top