राजनीति

Jignesh Mewani sentenced to 3 months imprisonment fine | कांग्रेस विधायक जिग्नेश मेवाणी सहित 12 लोगों को तीन माह की जेल, जानिए क्या है पूरा मामला

open-button


बताते चले कि 2017 में जिग्नेश मेवाणी सहित अन्य ने बिना अनुमति लिए एक रैली निकाली थी। यह रैली ऊना में दलितों की पिटाई की घटना के खिलाफ में निकाली गई थी। इस रैली में जिग्नेश के साथ-साथ एनसीपी नेता रेशमा पटेल, सुबोध परमार सहित अन्य लोग भी मुख्य नेतृत्वकर्ता के रूप में थे। बताते चले कि रेशमा पटेल राष्ट्रवादी महिला कांग्रेस की प्रदेश अध्यक्ष हैं।

दलितों की पिटाई के विरोध में ‘आजादू कूच’ के नाम से मेहराणा के पास बनासकांठा में इन लोगों ने आंदोलन किया था। इस मामले में चल रही जांच के बाद रैली के लिए कुल 12 लोगों को जिम्मेदार बताया गया था। फिर कोर्ट में चली सुनवाई सुनवाई के बाद इन लोगों के खिलाफ आज महेसाणा कोर्ट ने अपना फैसला सुना दिया। बताते चले कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ किए गए विवादित ट्वीट को लेकर चल रहे मामले में जिग्नेश मेवाणी को असम पुलिस ने गुजरात से बीते दिनों गिरफ्तार किया था।

यह भी पढ़ेंः Jignesh Mevani: गुजरात के विधायक जिग्नेश मेवाणी को मिली जमानत, फिर गिरफ्तारी

हालांकि इस मामले में जिग्नेश को कोकराझार कोर्ट से जमानत मिल गई थी। वहीं जमानत मिलने के बाद जिग्नेश मेवाणी का पुष्पा स्टाईल में फोटो और वीडियो खूब वायरल हुआ था। वहीं दूसरी ओर बिना इजाजत रैली के मामले में जिग्नेश मेवाणी के साथ जेल की सजा पाने वाली एनसीपी नेता रेशमा पटेल पहले बीजेपी में थी। 2019 के विधानसभा चुनाव से पहले रेशमा ने बीजेपी को यह कहते छोड़ दिया था कि भाजपा अब केवल मार्केटिंग की पार्टी रह गई है.





Source

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Most Popular

To Top