राजनीति

Gujarat: पूर्व सांसद जगदीश ठाकोर को मिली प्रदेश कांग्रेस की कमान, 9 महीने बाद पार्टी ने लिया बड़ा फैसला

open-button



नई दिल्ली। गुजरात ( Gujarat ) में विधानसभा चुनाव ( Assembly Election ) से पहले कांग्रेस ( Congress ) एक्शन मोड में नजर आ रही है। लंबे समय से प्रदेश अध्यक्ष के खाली पड़े पद को लेकर पार्टी ने शुक्रवार को फैसला लिया। इसके तहत पूर्व सांसद जगदीश ठाकोर ( Jagdish Thakor ) को गुजरात कांग्रेस के अध्यक्ष की कमान सौंपी गई है। कांग्रेस आलाकमान की ओर से अगले वर्ष होने वाले विधानसभा चुनाव से ठीक एक साल पहले जगदीश ठाकरो को बड़ी जिम्मेदारी दी गई है। ठाकोर पर पार्टी के जनाधार के मजबूत करने के साथ पार्टी में हो रहे बिखराव को बंटोरने का बड़ा दायित्व है।

दरअसल अमित चावड़ा के इस्तीफा के 9 महीने से गुजरात कांग्रेस अध्यक्ष का पद खाली पड़ा था। कांग्रेस इस पद पर ऐसे शख्स की नियुक्ति चाहती थी, जो आने वाले चुनाव में पार्टी की पकड़ को मजबूत बनाने के साथ सबको साथ लेकर चल सके।

यह भी पढ़ेँः कांग्रेस बोली आंदोलन में शहीद किसानों को मिले 5 करोड़, सरकार ने कहा- ऐसे किसानों का कोई रिकॉर्ड नहीं, मुआवजे का सवाल ही नहीं

इसी वर्ष मार्च में निकाय चुनावों में कांग्रेस को मिली करारी हार के बाद अमित चावड़ा ने कांग्रेस अध्यक्ष पद से इस्तीफा दे दिया था। तब से ही पार्टी को प्रदेश में नए अध्यक्ष की तलाश थी। ये तलाश पूरे नौ महीने बाद पूरी हुई है।

दरअसल अध्यक्ष पद पर नियुक्ति ना किए जाने से कांग्रेस लगातार विरोधियों के साथ-साथ अपने के भी निशाने पर थी। दरअसल कहा जा रहा था कि एक तरफ बीजेपी सीएम समेत पूरी सरकार बदलकर चुनाव की तैयारियों में जुट गई है, लेकिन कांग्रेस एक अध्यक्ष पद पर नियुक्ति नहीं कर पा रही है।

हार्दिक पटेल भी रेस में थे आगे
कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष की रेस में पाटीदार समुदाय के नेता हार्दिक पटेल को भी आगे माना जा रहा था, लेकिन कांग्रेस आलाकमान ने जगदीश ठाकोर पर दांव लगाया है। ठाकोर उत्तर गुजरात से आते हैं। ऐसे में पार्टी ठाकरो जरिए इस क्षेत्र वोट बैंक पर नजर गढ़ाए हुए है।

64 वर्षीय जगदीश ठाकोर बनासकंठा के कंकरेज के मूल निवासी हैं। हालांकि मौजूदा समय में वे अहमदाबाद में रहते हैं। उन्होंने 2009 लोकसभा चुनाव में पाटन सीट से चुनाव जीता। इस दौरान ठाकोर ने रिकॉर्ड 2.8 लाख से ज्यादा मतों से जीत हासिल की थी।

यही नहीं ठाकोर दहेगाम सीट से दो बार विधायक भी रह चुके हैं। जगदीश ने 2016 में गुजरात कांग्रेस के सभी पदों से इस्तीफा दे दिया था। उन्होंने कहा था कि वह पार्टी के कार्यकर्ता बने रहेंगे।

यह भी पढ़ेँः Parliament Winter Session: लोकसभा मे CVC, CBI निदेशक का कार्यकाल बढ़ाने वाला बिल पेश, जानिए विपक्ष ने क्या कहा

सुखराम बने नेता विपक्ष
लेकिन पार्टी ने एक बार फिर ठाकोर पर भरोसा जताते हुए उन्हें अहम जिम्मेदारी सौंपी है। जगदीश ठाकोर के अलावा कांग्रेस आलाकमान ने विधायक सुखराम रथवा को विधानसभा में विपक्ष का नेता बनाया है। बता दें कि हाल में इन दोनों ही नेताओं ने दिल्ली में राहुल गांधी से मुलाकात की थी, जिसके बाद से ही इनको बड़ी जिम्मेदारी मिलने की उम्मीद जताई जा रही थी।



Source

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Most Popular

To Top