राजनीति

ED Summoned Sonia Gandhi and Rahul Gandhi In National Herald Case | नेशनल हेराल्ड केस में सोनिया गांधी और राहुल गांधी की बढ़ी मुश्किल, ED ने जारी किया समन

open-button


उच्च संस्थानों के गलत इस्तेमाल का आरोप
राहुल गांधी और सोनिया गांधी को नेशन हेराल्ड मामले में ईडी की ओर से समन जारी किए जाने के बाद सियासी बयानबाजियां शुरू हो गई हैं। कांग्रेस नेताओं ने केंद्र सरकार पर तीखा हमला बोला है। एक तरफ रणदीप सुरेजवाला ने उच्च संस्थानों के गलत इस्तेमाल का आरोप लगाया है तो वहीं उदित राज ने भी इसे बीजेपी की बौखलाहट बताया है।

यह भी पढ़ें

राहुल गांधी ने मोदी सरकार घेरा, बोले- कश्मीर में 5 महीने में 15 सुरक्षाकर्मी शहीद, 8 साल का जश्न मनाने में व्यस्त BJP

सुरेजवालाः हम डरेंगे नहीं
ईडी की ओर से भेजे समन के बाद कांग्रेस पार्टी के प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने कहा, ‘नेशनल हेराल्ड मामले में साजिश के तहत सोनिया गांधी और राहुल गांधी को ED ने नोटिस भेजा है। लेकिन हम “डरेंगे नही, झुकेंगे नही…. सीना ठोक कर लड़ेंगे।’

सुरजेवाला के अलावा इस कॉन्फ्रेंस में वरिष्ठ अधिवक्ता और कांग्रेस नेता अभिषेक मनु सिंघवी भी मौजूद थे। उन्होंने आरोप लगाया है कि इससे पहले ईडी ने इस मामले को बंद कर दिया था। उन्होंने कहा, ‘भाजपा राजनीतिक विरोधियों को डराने के लिए कठपुतली एजेंसियों का इस्तेमाल कर रही है।’

सिंघवी ने ईडी पर गलत नोटिस भेजना का आरोप लगाया। उन्होंने कहा कि, गलत धाराओं में ईडी की ओर से नोटिस भेजा गया है। उन्होंने कहा कि, ये प्रतिशोध के तहत की गई कार्रवाई है। अनुच्छेद 50 के तहत केस 2015 में केस बंद हो गया था। मौजूदा सत्ताधारी दल को ये बात अच्छी नहीं लगी और उन्होंने पुराने अधिकारियों को अपदस्थ करने के बाद इस केस पर नए लोगों को रखकर प्रतिशोध के तहत कार्रवाई की है।

ये है पूरा मामला
दरअसल सुब्रमण्यन स्वामी ने नेशनल हेराल्ड केस में सोनिया गांधी, राहुल गांधी, दिवंगत नेता मोतीलाल वोरा, पत्रकार सुमन दुबे और टेक्नोक्रेट सैम पित्रोदा पर आरोप लगाए थे। स्वामी ने आरोप लगाया था कि, यंग इंडिया लिमिटेड के जरिए गलत तरीके से इसका अधिग्रहण किया गया है और कांग्रेस नेताओं ने 2,000 करोड़ रुपए तक की संपत्ति हथिया ली।

बता दें कि, इस मामले की इन्वेस्टिगेशन 2014 में ईडी की ओर से शुरू की गई थी। कांग्रेस इस मामले को लेकर कहती रही है कि यंग इंडिया लिमिटेड का मकसद प्रॉफिट कमाना नहीं है। बल्कि इसका गठन चैरिटी के लिए किया गया है।

यह भी पढ़ें

लंदन में राहुल गांधी के दिए बयान पर BJP हमलावर, बोली- 1984 से केरोसिन लेकर घूम रही कांग्रेस

 





Source

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Most Popular

To Top