राजनीति

BJP made this plan to win Meerut Ghaziabad MLC election 2022 | Meerut Ghaziabad MLC Election 2022 : सीएम योगी के इन मंत्रियों की खास दांव पर, दिग्गजों के जमीनी पकड़ का इम्तिहान

open-button


Meerut Ghaziabad MLC Election 2022 मेरठ गाजियाबाद एमएलसी चुनाव 2022 भाजपा के मंत्रियों के लिए किसी परीक्षा से कम नहीं हैं। इस परीक्षा में योगी के ये मंत्री पास हुए तो ही आगे उन पर भरोसा किया जा सकेगा। पश्चिमी उप्र में दो केंद्रीय मंत्री और चार प्रदेश स्तर के राज्यमंत्रियों की प्रतिष्ठा इस चुनाव में दांव पर हैं। वहीं विपक्ष रालोद से उम्मीदवार भी पूरी ताकत लगा रहे हैं।

मेरठ

Published: April 04, 2022 10:50:53 am

Meerut Ghaziabad MLC Election 2022 मेरठ गाजियाबाद एमएलसी चुनाव 2022 भाजपा के लिए प्रतिष्ठा का प्रश्न बन गया है। मेरठ गाजियाबाद एमएलसी चुनाव में गठबंधन प्रत्याशी कड़ी टक्कर दे रहे हैं। भाजपा के लिए एमएलसी चुनाव 2022 जीतना अब हर हाल में जरूरी हो गया है। मेरठ गाजियाबाद एमएलसी चुनाव 2022 में भाजपा प्रत्याशी की जीत के लिए योगी सरकार के चार मंत्री और पीएम मोदी के दो मंत्रियों ने अपनी पूरी ताकत झोंक दी है। इस चुनाव से भाजपा दिग्गजों की जमीनी हकीकत का भी पता चल जाएगा। इस चुनाव में अब भाजपा के 6 मंत्रियों और पदाधिकारियों की प्रतिष्ठा दांव पर हैं।

Meerut Ghaziabad MLC Election 2022 : सीएम योगी के इन मंत्रियों की खास दांव पर, दिग्गजों के जमीनी पकड़ का इम्तिहान

Meerut Ghaziabad MLC Election 2022 : सीएम योगी के इन मंत्रियों की खास दांव पर, दिग्गजों के जमीनी पकड़ का इम्तिहान

इनमें केंद्रीय राज्यमंत्री संजीव बालियान के अलावा गाजियाबाद से सांसद केंद्रीय मंत्री जनरल वीके सिंह भी शामिल हैं। इसके अलावा मेरठ दक्षिण विधानसभा सीट से चुनाव जीते डा0 सोमेंद्र तोमर जो कि उर्जा राज्यमंत्री हैं इसके अलावा प्रदेश सरकार में मंत्री नरेंद्र कश्यप, दिनेश खटीक और केपी मलिक भी चुनावी रणनीति बनाने की तैयारी में लगे हैं। प्रदेश इकाई ने इन मंत्रियों को अपने क्षेत्रों में चुनावी रणनीति के लिए बैठकों करने और हर वोट पर नजर रखने के निर्देश दिए हैं। नोएडा विधायक पंकज सिंह को मेरठ गाजियाबाद एमएलसी चुनाव 2022 का प्रभारी बनाया है। भाजपा ने मेरठ-गाजियाबाद सीट पर धर्मेंद्र भारद्वाज को प्रत्याशी बनाया है। भाजपा प्रत्याशी धर्मेंद्र भारद्वाज मंत्रियों एवं संगठन के समन्वय से अपनी चुनावी जमीन मजबूत कर रहे हैं। वहीं मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह एवं प्रदेश संगठन महामंत्री सुनील बंसल भी वर्चुअल बैठक कर मेरठ गाजियाबाद की एमएलसी सीट को हर हाल में बड़ी जीत दर्ज करने के निर्देश दे चुके हैं। साथ ही पार्टी ने साफ कर दिया है कि एमएलसी चुनावों को लेकर जिलों में आयोजित बैठकों में प्रदेश सरकार के मंत्रियों का रहना जरूरी होगा।

यह भी पढ़े : Raid on meat factory in Meerut : पूर्व मंत्री याकूब कुरैशी परिवार सहित फरार,पत्नी और दोनों बेटों के नाम एफआईआर गत दिनों गाजियाबाद में आयोजित बैठक में केंद्रीय मंत्री जनरल वीके सिंह शामिल हुए। यहीं के राज्यमंत्री, स्वतंत्र प्रभार नरेंद्र कश्यप पर पार्टी की जीत का बड़ा दारोमदार होगा। मेरठ दक्षिण विधायक व ऊर्जा राज्यमंत्री डा. सोमेंद्र तोमर, जलशक्ति मंत्री दिनेश खटीक भी वोटरों के साथ मिलने के लिए कहा है। पार्टी के साथ ही इन दिग्गजों की भी साख एमसलसी चुनाव में फंसी हुई है। बागपत में बैठक में सांसद डा. सत्यपाल सिंह के अलावा राज्यमंत्री केपी मलिक उपस्थित रहे। मेरठ पश्चिमी क्षेत्रीय प्रवक्ता गजेंद्र शर्मा ने बताया कि मेरठ-गाजियाबाद सीट पर पांच लोकसभा सांसदों का क्षेत्र आता है। जबकि दस से ज्यादा विधायकों का क्षेत्र है। सभी ने अपने क्षेत्र में चुनावी होमवर्क बढ़ाया है। ग्राम प्रधानों, क्षेत्र पंचायत सदस्यों से लेकर नगर पंचायत एवं पार्षदों के बीच जाकर संपर्क स्थापित किया जा रहा है।
newsletter

अगली खबर

right-arrow





Source

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Most Popular

To Top