राजनीति

Bhagwant Mann orders to withdraw security of 122 leaders in Punjab | कुर्सी संभालने से पहले ही एक्शन में भगवंत मान, 122 नेताओं की सिक्योरिटी हटाने का दिया आदेश

open-button


शपथ ग्रहण से पहले ही पंजाब में पंजाब के मनोनीत मुख्यमंत्री Bhagwant Mann ने पूर्व विधायकों और मंत्रियों के अलावा कई VVIP से सिक्योरटी वापस लेने के आदेश जारी कर सभी को चौंका दिया है।

Updated: March 13, 2022 12:39:17 pm

पंजाब में जल्द ही आम आदमी पार्टी के नेता भगवंत मान मुख्यमंत्री पद की शपथ लेंगे। शपथ ग्रहण से पहले ही वो एक्शन में आ गए हैं वो दर्जनों नेताओं से उनकी सिक्योरिटी वपस लेने का आदेश दिया है। भगवंत मान का मानना है कि किसी नेता की सुरक्षा से अधिक जनता की सुरक्षा आवश्यक है। उनका ये भी मानना है कि पुलिस स्टेशन को खाली नहीं छोड़ सकते हैं ऐसे में सभी पुलिस कर्मी वहाँ हो तो बेहतर है। इस बड़े फैसले से कई बड़े नेताओं को बड़ा झटका लगा है जिनमें से एक पंजाब कांग्रेस चीफ नवजोत सिंह सिद्धू भी हैं।

Bhagwant Mann orders to withdraw security of 122 former MPs, MLAs in Punjab

Bhagwant Mann orders to withdraw security of 122 former MPs, MLAs in Punjab

क्या कहा भगवंत मान ने?
पंजाब के मनोनीत मुख्यमंत्री भगवंत मान ने शनिवार को सरकार बनाने का दावा पेश किया। इसके बाद पंजाब पुलिस ने राज्य के पूर्व कैबिनेट मंत्रियों सहित 122 पूर्व विधायकों को सुरक्षा प्रदान करने वाले लगभग 400 पुलिस कर्मियों को वापस लेने की बात कही। इसपर भगवंत मान ने अपने बयान में कहा, “हाँ थाने खाली पड़े हैं। नेताओं के घरों के सामने जो सुरक्षा दी गई है जहां तंबू लगाकर पुलिस रह रही है उनसे पुलिस का ही काम लेंगे। 3 करोड़ से अधिक लोगों की सुरक्षा नेताओं से अधिक जरूरी हैं मैं ये सोचता हूँ।”

किन किन नेताओं से छीनी जाएगी सिक्योरिटी ?
मनप्रीत सिंह बादल, राज कुमार वेरका, भारत भूषण आशु, रणदीप सिंह नाभा, विधानसभा के पूर्व उपाध्यक्ष अजैब सिंह भट्टी, विधानसभा के पूर्व अध्यक्ष राणा केपी सिंह, रजिया सुल्ताना, परगट सिंह, अमरिंदर सिंह सुखबिंदर सिंह, राजा वारिंग जैसे नेताओं की सुरक्षा हटा दी गई है। इस सूची में पंजाब कॉंग्रेस चीफ नवजोत सिंह सिद्धू के अलावा उनकी पत्नी नवजोत कौर का नाम भी शामिल है जिनकी सुरक्षा वपस ली जाएगी।

इसके अलावा भगवंत मान ने कहा, ‘जीतने के बाद भी मैं लोगों के साथ काम करूंगा। चंडीगढ़ नहीं जाऊंगा। जैसे चुनाव के दौरान डोर टू डोर जाकर वोट मांगते हैं वैसे ही घर घर जाकर पंजाब सरकार काम करेगी।

16 मार्च को लेंगे शपथ
बता दें कि भगवंत मान ने शनिवार को राज्यपाल बनवारी लाल पुरोहित से मुलाकात की थी और अगली सरकार बनाने का दावा पेश किया था। इसके आबाद भवगंत मान ने कहा कि उन्होंने विधायकों के समर्थन का पत्र राज्यपाल को सौंपा,जिसे राज्यपाल ने स्वीकार कर लिया है। अब 16 मार्च को भगवंत मान सीएम पद के लिए शपथ ग्रहण करेंगे।

यह भी पढ़ें

चुनाव परिणाम से पहले पश्चिमी राजस्थान क्याें आए थे भगवंत मान

newsletter

अगली खबर

right-arrow





Source

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Most Popular

To Top