स्वास्थ्य

‘World Voice Day 2022’ पर जानें आवाज को हेल्दी रखने के 8 टिप्स

'World Voice Day 2022' पर जानें आवाज को हेल्दी रखने के 8 टिप्स


आज (16 अप्रैल) ‘वर्ल्ड वॉइस डे’ यानी ‘विश्व आवाज दिवस’ है. प्रत्येक व्यक्ति के लिए आवाज जरूरी है. आवाज आपको एक पहचान देती है. अपनी आवाज के जादू से कई लोग दुनिया में एक अलग पहचान बनाते हैं. कुछ लोग ऐसे होते हैं, जिनकी आवाज में इतनी मिठास होती है कि दिल करता है, उन्हें सारा दिन सुनते ही रहें. लेकिन कुछ लोग इसकी कद्र नहीं करते हैं और गलत आदतों जैसे धूम्रपान, एल्कोहल के अधिक सेवन, जोर-जोर से चिल्लाकर बोलने से अपनी अच्छी आवाज और गले को नुकसान पहुंचाते हैं. बार-बार ऊंची आवाज में बोलने, चिल्लाने से वॉइस डिसऑर्डर होने की संभावना बढ़ जाती है. जो लोग गायक, लेक्चरर, टीचर, रेडियो जॉकी आदि होते हैं, उन्हें अपनी आवाज का विशेष ख्याल रखने की जरूरत होती है, क्योंकि इनका काम ही है बोलना. कई बार इन्हें ऊंची आवाज में गाने, बोलने की जरूरत होती है, जिससे गला खराब होने की संभावन रहती है. हालांकि, आवाज को बेहतर बनाए रखने के लिए आप कुछ बातों का ध्यान रख सकते हैं.

यूं बरकरार रखें हेल्दी वॉइस

  • लाइवसाइंस डॉट कॉम में छपी एक रिपोर्ट के अनुसार, आप चाहते हैं कि आपकी आवाज अच्छी बनी रहे तो शरीर को अच्छी तरह से हाइड्रेटेड रखने के लिए पानी पर्याप्त मात्रा में पिएं. शराब और कैफीन के अधिक सेवन से बचें. वोकल कॉर्ड्स बहुत तेजी से कंपन करती हैं और पानी का उचित संतुलन रखने से उन्हें लुब्रिकेट रखने में मदद मिलती है. अधिक मात्रा में पानी वाले खाद्य पदार्थ जैसे सेब, नाशपाती, तरबूज, आड़ू, खरबूजा, अंगूर, आलूबुखारा, आदि का सेवन करें.
  • सारा दिन बोलते ही ना रहें, गले और वोकल कॉर्ड को भी आराम देना जरूरी होता है, जैसे शिक्षकों को क्लास के बीच के ब्रेक के दौरान बोलने से बचना चाहिए. सहकर्मियों के साथ शोरगुल वाले स्टाफ रूम में बात करने की बजाय दोपहर का भोजन शांत तरीके से करें.
  • धूम्रपान न करें. यदि आप पहले से ही करते हैं, तो स्मोकिंग की आदत को छोड़ दें या बहुत कम सिगरेट पिएं. धूम्रपान से गले के कैंसर का खतरा बढ़ जाता है और धुएं में सांस लेने से वोकल कॉर्ड्स में जलन पैदा हो सकता है, जिससे आपको खुजली, इर्रिटेशन हो सकती है.

इसे भी पढ़ें: क्यों मनाया जाता है ‘वर्ल्ड वॉइस डे’? जानें इस दिन का इतिहास और महत्व

  • अपनी आवाज का दुरुपयोग न करें. बेवजह चिल्लाने से बचें. खासकर, वे लोग जो टीचर, लेक्चरर या सिंगर हैं. कोशिश करें कि शोर-शराबे वाली जगहों पर जोर से बात न करें. यदि आपका गला सूखा या थका हुआ लगता है या आपकी आवाज कर्कश हो रही है, तो अपनी आवाज का उपयोग कम करें. आवाज बैठना एक संकेत हो सकता है कि आपका वोकल कॉर्ड स्वस्थ नहीं है.
  • हाई नोट्स या लो नोट्स में गाने के दौरान भी अपने गले और गर्दन की मांसपेशियों को रिलैक्स रखने की कोशिश करें. आप हर दिन कैसे बोलते हैं, इस पर ध्यान दें. गायक हों या कोई और बोलते समय पर्याप्त रूप से श्वास प्रवाह बनाए रखें.
  • अपने गले को बहुत बार साफ करने से बचें. जब आप अपना गला साफ करते हैं, तो यह आपके वोकल कॉर्ड को एक साथ नुकसान पहुंचा सकता है. बार-बार गला साफ करने से वे और भी अधिक कर्कश हो सकता है. आपको गला साफ करना है, तो एसिड रिफ्लक्स डिजीज या एलर्जी, साइनस की स्थिति जैसी चीजों के लिए डॉक्टर से जांच करवाएं.
  • जब आप बीमार हों, तो अपनी आवाज का अधिक इस्तेमाल ना करें. सर्दी या इंफेक्शन के कारण आवाज या गला बैठ गई हो, कर्कश हो, तो बात न करें.
  • जब आपको सार्वजनिक रूप से, बड़े समूहों में या बाहर बोलना हो, तो अपनी आवाज में स्ट्रेस लाने से बचने के लिए एम्प्लिफिकेशन का उपयोग करने के बारे में सोचें.

Tags: Health, Health tips, Lifestyle



Source

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Most Popular

To Top