स्वास्थ्य

Opinion: इस मंत्री के फैसले की अब हो रही है दुनिया में तारीफ, जानें पीएम मोदी ने 10 साल पहले उसके बारे में क्या कहा था?

Opinion: इस मंत्री के फैसले की अब हो रही है दुनिया में तारीफ, जानें पीएम मोदी ने 10 साल पहले उसके बारे में क्या कहा था?


नई दिल्ली. देश में कोरोना महामारी की तीसरी लहर (Covid-19 Third Wave) के दौरान अस्पताल में मरीजों की कम संख्या और मृत्युदर के कम रहने में टीकाकरण (Vaccination) अभियान की भूमिका को नकारा नहीं जा सकता है. कई रिपोर्ट में कहा गया है कि केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय (Health Ministry) की सक्रियता और सामूहिक प्रयासों से ही कोरोना संक्रमण के प्रसार को रोकने में कामयाबी मिली है. बता दें कि कोरोना संक्रमण के प्रसार को रोकने में भारत के प्रयासों और टीकाकरण अभियान को विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO), संयुक्त राष्ट्र(UN), हार्वर्ड बिजनेस स्कूल और इंस्टीट्यूट आफ कंपटिटिवनेस की रिपोर्ट में भी सराहाना मिली है. विशेषज्ञ मानते हैं कि बीते एक साल में भारत के हेल्थ सेक्टर (Health Sector) को लेकर कई ऐसे निर्णय लिए गए हैं, जिससे हेल्थ सेक्टर को आने वाले दिनों में मजबूती मिलेगी. बता दें कि पिछले साल ही मोदी सरकार में स्वास्थ्य मंत्रालय का प्रभार संभालने वाले मनसुख मंडाविया (Mansukh Mandaviya) की भूमिका की अब सराहना होने लगी है.

गौरतलब है कि पिछले साल जब केंद्रीय मंत्रिपरिषद का विस्तार किया गया था, उनमें केंद्रीय मंत्री और गुजरात से राज्यसभा सांसद मनसुख मांडविया की चर्चा सबसे ज्यादा हुई थी. मनसुख मांडविया के बारे में 10 साल पहले पीएम मोदी ने एक भविष्यवाणी की थी, जो अब सच साबित हो रही है. 2012 में मांडविया जब पहली बार गुजरात से राज्य सभा के लिए निर्वाचित हुए थे, तब गुजरात के मुख्यमंत्री रहे नरेंद्र मोदी ने उनके बारे में एक भविष्यवाणी की थी. पीएम मोदी ने तब कहा था, ‘उनको मांडविया में बहुत अधिक संभावनाएं दिख रही हैं. यह इतनी छोटी घटना नहीं है, जितना आपलोग समझ रहे हैं. आपलोग डायरी में नोट करके रख लें मांडविया का भविष्य काफी उज्ज्वल है और मुझे पूरा भरोसा है कि मैं सच साबित होऊंगा.’

Coronavirus, Covid19, Mansukh Mandviya
केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मांडविया लगातार वरिष्ठ सरकारी अधिकारियों और विशेषज्ञों के साथ बैठक करते रहते हैं. (फाइल फोटो)

स्वास्थ्य मंत्रालय ने ऐसे रचा इतिहास

पिछले साल कैबिनेट विस्तार में मनसुख मांडविया को देश के नए स्वास्थ्य मंत्री के साथ-साथ रसायन एवं उर्वरक मंत्री का भी प्रभार दिया गया था. एक साल बाद अब मंडाविया के कामकाज का आंकलन होने लगा है. बता दें कि जब कोरोना की दूसरी लहर में देश को रेमडेसीविर की जरूरत पड़ी तो उन्होंने फार्मा विभाग के मंत्री के तौर पर यह सुनिश्चित किया 24 घंटे के अंदर देश की उत्पादन क्षमता में बढ़ोतरी हो. उन्होंने निजी कंपनियों से खुद ही संपर्क साधा और हर दिन मॉनिटरिंग करके यह सुनिश्चित किया कि कम से कम समय में इसकी आपूर्ति कैसे सुधरे.

कोरोना काल में ऐसे काम किया

ऐसे ही जब ब्लैक फंगस बढ़ा तो उन्होंने इसकी इंजेक्शन एंफोटेरिसिन-बी के भारत में हो रहे उत्पादन को सिर्फ दो महीने में बढ़ाकर छह गुना करना सुनिश्चत किया. पिछले साल अप्रैल में जहां सिर्फ 62,000 एंफोटेरिसिन-बी इंजेक्शन का उत्पादन भारत में हो रहा था, जून में इसका उत्पादन बढ़कर 3.75 लाख वाइल हो गया. ऑक्सिजन किल्लत दूर करने से लेकर हर दिन के साथ वैक्सीन आपूर्ति बेहतर करने की दिशा में भी उन्होंने लगातार काम किया है. प्रधानमंत्री मोदी ने अगर उन्हें स्वास्थ्य मंत्रालय की जिम्मेदारी दी तो दवाओं और खास तौर पर कोरोना संकट के दौरान जरूरी इंजेक्शन और दवाओं के मोर्चे पर मनसुख मांडविया ने जो काम किए हैं, वह एक मुख्य वजह रही.

Corona, Corona Virus,
मांडविया अक्सर ‘वसुधैव कुटुंबकम’ और ‘शुभ लाभ’ के भारतीय दर्शन का उल्लेख करते रहते हैं.

अन्य देशों को भी किया मदद

मांडविया अक्सर ‘वसुधैव कुटुंबकम’ और ‘शुभ लाभ’ के भारतीय दर्शन का उल्लेख करते रहते हैं. मंडाविया के मुताबिक, भारत ने न सिर्फ गुणवत्तापूर्ण और वहनीय टीके उत्पादित किए हैं, बल्कि हमने मानवीय आधारों पर 150 से अधिक देशों को दवाइयां भी उपलब्ध कराई है. मोदी सरकार के वैक्सीन मैत्री कार्यक्रम की विश्वभर में सराहना की गई है. इसके साथ ही मंडाविया ने बीते एक साल में कई महत्वपर्ण निर्णय लिए हैं.

बीते एक साल में लिए गए कुछ महत्वपूर्ण फैसले

1. ईसीआरपी- 2

राज्यों/केंद्र शासित प्रदेशों से आपातकालीन कोविड प्रतिक्रिया पैकेज (ईसीआरपी-द्वितीय) के तहत स्वीकृत धन का बेहतर उपयोग शुरू हुआ. आईसीयू बेड, ऑक्सीजन बेड के मामले में तेजी आई. टेली-मेडिसिन और टेली-परामर्श के लिए आईटी उपकरणों का प्रभावी ढंग से उपयोग शुरू हुआ.

2. ओबीसी और ईडब्ल्यूएस रिजर्वेशन

केंद्र सरकार ने 29 जुलाई 2021 को नोटिफिकेशन जारी कर नीट परीक्षा में ऑल इंडिया कोटा के तहत ओबीसी को 27 फीसदी और आर्थिक तौर पर कमजोर स्टूडेंट को 10 फीसदी आरक्षण देने का फैसला किया.

Union Budget 2022, Union Budget, Budget 2022, Economic Survey, Economic Survey 2022, Union Budget News, Budget 2022 India, Budget 2022 Update
आयुष्मान भारत डिजिटल मिशन यानी एबीडीएम को मंजूरी प्रदान की गई. (फाइल फोटो)

3. नैशनल एग्जिट एग्जाम

देश में एमबीबीएस के साथ-साथ डॉक्टरी का लाइसेंस लेने के लिए 2023 से नेक्स्ट (नेशनल एग्जिट टेस्ट) परीक्षा लागू होगी. यह परीक्षा हर साल जून से पहले होगी.

4. आयुष्मान भारत- डिजिटल मिशन

आयुष्मान भारत डिजिटल मिशन यानी एबीडीएम (Ayushman Bharat Digital Mission- ABDM) को मंजूरी प्रदान की गई. इस मिशन के लिए 5 सालों के लिए 1,600 करोड़ रुपये का वित्तीय प्रावधान किया गया है. आयुष्मान भारत डिजिटल मिशन के माध्यम से टेलीमेडिसिन जैसी तकनीकों के उपयोग को प्रोत्साहित करके और स्वास्थ्य सेवाओं के राष्ट्रीय स्तर पर विकल्प चयन करके गुणवत्तापूर्ण हेल्थ सर्विस तक समान एवं सुगम पहुंच को सुदृढ़ बनाया जा सकेगा.

5. प्रधानमंत्री आयुष्मान भारत हेल्थ इन्फ्रास्ट्रक्चर मिशन

यह देशभर में हेल्थकेयर इंफ्रास्ट्रक्चर को मजबूत करने के लिए सबसे बड़ी स्कीम्स में से एक है. इस योजना का मसकद लंबी अवधि के लिए पब्लिक हेल्थकेयर इंफ्रास्ट्रक्चर को बनाना और उसमें सुधार करना है.

Ayushman Bharat Digital Mission, Indian Railway, Railway Hospital, Digital India Initiative, railtel, HMIS
देशभर में हेल्थकेयर इंफ्रास्ट्रक्चर को मजबूत करने के लिए सबसे बड़ी स्कीम्स में से एक है.

ये भी पढ़ें: Delhi News: झारखंड हाई कोर्ट के पूर्व जज हरीश चंद्र मिश्रा बने दिल्ली के नए लोकायुक्त

कुछ और महत्वपूर्ण उपलब्धियां

6. 180 से करोड़ से अधिक वैक्सीन

7. बच्चों के लिए वैक्सीन

8. दुनिया की पहली डीएनए आधारित कोरोना वैक्सीन जाइकोव- डी को मंजूरी

9. प्रीकॉशन डोज

10. 24 घंटे पोस्टमार्टम

11. सफदरजंग अस्पताल का कायाकल्प

12. विभिन्न एम्स (AIIMS) में सिनर्जी

13. सरोगेसी विधेयक

14. एआरटी विधेयक

15. ओमिक्रॉन मैनेजमेंट

16. स्वास्थ्य मंत्रालय में हेल्दी कैंटीन

Tags: Covid-19 Crisis, Health Minister Mansukh Mandaviya, Health ministry, Mansukh Mandaviya, Modi government



Source

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Most Popular

To Top