स्वास्थ्य

Mental health try these five ways to get rid of negative thoughts lak

Mental health try these five ways to get rid of negative thoughts lak


Easy tips to get rid of Negative thoughts: समय के साथ-साथ लोगों में काम का बोझ बढ़ता जाता है. इसके साथ ही मन में खिझ, चिड़चिड़ापन, चिंता, परेशानी, रिश्तो में कड़वाहट आदि भी बढ़ते जाते हैं. जो लोग इन दुश्वारियों को सही से हैंडल कर पाते हैं वे आगे बढ़ जाते हैं लेकिन कुछ लोग इन चीजों को सही से हैंडल नहीं कर पाते हैं. ऐसे में उनके मन में नकारात्मक विचार (Negative thought) भरने लगते हैं. मन में लगातर नकारात्मक विचार कई तरह की परेशानियों को साथ लाता है. इससे न सिर्फ मानसिक परेशानियां (mental problems ) बढ़ती हैं बल्कि कई तरह की शाररिक परेशानियों का भी सामना करना पड़ सकता है. लगातार नकारात्मक विचारों का पलना ब्लड प्रेशर, डायबिटीज, हार्ट डिजीज, थकान, इंसोमेनिया आदि परेशानियों को जन्म दे सकता है. इसलिए जरूरी है कि नकारात्मक विचारों को मन में पनपने ही न दें. हमेशा खुश रहें जिससे निगेटिविटी आएगी ही नहीं. हालांकि यह आसान नहीं है लेकिन यहां हम कुछ टिप्स बता रहे हैं जिनकी मदद से आप अपने मन की निगेटिविटी से दूर रह सकते हैं. आइए जानते हैं ये टिप्स.

निगेटिव विचार भगाने के टिप्स

इसे भी पढ़ेंः पर्यावरण को ज्यादा नुकसान पहुंचा रहे हैं नॉन वेज फूड-स्टडी

पॉजिटिव लोगों के साथ रहे
टीओआई की खबर के मुताबिक निगेटिव विचार को भगाने का सबसे आसान उपाय है कि निगेटिव लोगों के साथ रहे ही न. हमेशा पॉजिटिव लोगों के साथ रहे. उनको कंपनी दें. हमेशा खुश रहें और दूसरों को भी खुश रखने की कोशिश करें.

इसे भी पढ़ेंः Lemon Water Side Effects: नींबू पानी का ज्यादा सेवन सेहत को पहुंचा सकता है ये बड़े नुकसान

पॉजिटिव रहे
निगेटिव चीजों को सोचें ही नहीं. जब भी मन में निगेटिव विचार आए थोड़ा टहल लें या खुद को फिजिकल एक्टिविटी में व्यस्त रखें. हमेशा सकारात्मक चीजों में अपना ध्यान लगाएं और सकारात्मक चीजों के बारे में सोचें. खुद को ऐसे कामों में लगाएं जिनमें आपको खुशी मिले. अपने शौक के हिसाब से काम करें.

क्षमाशील बनें
दैनिक जीवन कई लोग आपको परेशान कर सकते हैं. कुछ लोग आपको बहुत ज्यादा तकलीफ भी दे सकते हैं. ऐसी परिस्थिति में उन्हें माफ करना सीखें. माफी से बढ़कर कोई दान नहीं है. अपने कर्म पर ध्यान दें न कि किसी से बदले लेने पर.

मदद करें
जब भी मन में निगेटिविटी ज्यादा आए, दूसरों की मदद करें. जो भी आदमी आपके आस पास है और वह कोई मुसीबत में है तो उसकी मदद करें. इससे आपका मन खुश होगा और आपका मूड भी सही हो रहेगा.

वर्कआउट पर ध्यान दें
जब भी मन में नकारात्मकता आए फिजिकल एक्टिविटी को बढ़ा दें. वर्कआउट से न सिर्फ आपकी सेहत सही रहेगी बल्कि यह आपको मानसिक रूप से भी हेल्दी बनाएगा.

Tags: Health, Lifestyle





Source

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Most Popular

To Top