स्वास्थ्य

Is combonation of milk and fish creats toxin together know the scientific truth Lak

Is combonation of milk and fish creats toxin together know the scientific truth Lak


Fish and milk toxin or myth: अंधविश्वास और मिथ या गलत धारणाएं सदियों से एक पीढ़ी से दूसरी पीढ़ी में सुनकर चली आ रही है. किसी चीज के बारे में समाज में अगर गलत धारणाएं हैं, तो उसे खत्म होने में सदियों लग जाती है. दूध और मछली के बारे में भी हम अपनी दादी-नानी से यही सुनते आ रहे हैं कि दोनों को एक साथ नहीं खाना चाहिए. इससे स्किन की गंभीर बीमारी होती है. लेकिन क्या यह वास्तव में सच है. हालांकि दूध और मछली दोनों पोष्टिक तत्वों से भरपूर खाद्य पदार्थ है. मछली में भरपूर मात्रा में प्रोटीन, कई तरह के विटामिन, ओमेगा 3 फैटी एसिड आदि पाए जाते हैं जबकि दूध कैल्शियम, प्रोटीन, आयोडीन, पौटैशियम, फॉस्फोरस आदि से भरे होते हैं. लेकिन क्या सच में इन दोनों को एक साथ सेवन करने से त्वचा संबंधी गंभीर बीमारी पैदा होती है. हालांकि विज्ञान इस विषय पर बहुत कुछ नहीं कहता.

इसे भी पढ़ेंः World AIDS Day 2021: क्या है एड्स की बीमारी, कैसे फैलती है यह और क्या है इसका इलाज जानिए

क्या कहता है विज्ञान
टीओआई की खबर के अनुसार दूध और मछली का एक साथ सेवन न करने की सिर्फ एक वजह है कि अगर किसी व्यक्ति को दोनों में से किसी एक चीज से एलर्जी है तो उसे परेशानी हो सकती है, इसके अलावा दोनों को एक साथ न खाने का कोई कारण नहीं है. अगर दोनों को एक साथ खाने से कोई नुकसान भी है तो अब तक ऐसी कोई स्टडी नहीं हुई है जिसमें यह साबित किया गया हो कि दूध और मछली को एक साथ खाने से नुकसान होता है. विज्ञान कहता है कि अगर मछली को सही से पकाया नहीं गया है या किसी को सीफूड से एलर्जी है तो ऐसे व्यक्ति को स्किन संबंधी दिक्कतें हो सकती है.

हालांकि कुछ देशों में अत्यधिक बीमार पड़ने पर जल्दी रिकवरी के लिए मछली और दूध को एक साथ देने की भी प्रथा है. दूसरी तरफ आयुर्वेद में दूध और मछली का एक साथ सेवन पूरी तरह से मनाही है. इसका कारण यह है कि आयुर्वेद में नॉन वेजिटेरियन चीजों से किसी चीज का इलाज नहीं किया जाता है. आयुर्वेद के अनुसार दूध का कूलिंग इफेक्ट है जबकि मछली का हीटिंग इफेक्ट. इसलिए दोनों का कॉम्बिनेशन असंतुलन पैदा कर सकता है. इससे शरीर में कई तरह के रासायनिक परिवर्तन होते हैं.

इसे भी पढ़ेंः दवा से ब्लड प्रेशर घटाने के बजाय बढ़ा लेते हैं हाइपरटेंशन के अधिकांश मरीज-स्टडी

आखिरी सच क्या है
पहली बात तो यह कि अब तक ऐसा कोई वैज्ञानिक प्रमाण सामने नहीं आया है जिसमें कहा जाए कि दूध और मछली का एक साथ सेवन करने से शरीर में जहर बनता है. हां अगर व्यक्ति को दोनों में से किसी एक चीज से एलर्जी है या उस व्यक्ति का इम्यून सिस्टम कमजोर है तो उसे दूध और मछली एक साथ खाने के लिए नहीं कहा जाता है. लेकिन अब तक ऐसा कोई वैज्ञानिक प्रमाण नहीं है जिसके आधार पर यह कहा जाए कि दोनों का एक साथ सेवन जहर बन जाता है.

Tags: Fish, Health, Lifestyle





Source

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Most Popular

To Top