स्वास्थ्य

Hyperuricemia: हाइपरयूरिसीमिया क्या है? जानिए बच्चों में यूरिक एसिड से जुड़ी इस समस्या और लक्षणों के बारे में

Hyperuricemia: हाइपरयूरिसीमिया क्या है? जानिए बच्चों में यूरिक एसिड से जुड़ी इस समस्या और लक्षणों के बारे में


हाइलाइट्स

बच्चों में यूरिक एसिड का बढ़ना यानी हाइपरयूरिसीमिया
बच्चों में हाइपरयूरिसीमिया के लक्षण को पहचाने
कुछ खास चीजों का रखकर ध्यान, अपने बच्चे का बचाएं इस रोग से

हाइपरयूरिसीमिया: हाइपरयूरिसीमिया यानी शरीर में यूरिक एसिड की मात्रा का अधिक बढ़ जाना. यूरिक एसिड एक केमिकल को कहा जाता है, जो तब बनता है जब हमारा शरीर प्यूरीन्स नाम के सब्सटांस को ब्रेक डाउन करता है. प्यूरीन्स समान्यतया हमारे शरीर द्वारा बनाया जाता है और कुछ खाद्य पदार्थों में भी पाया जाता है. यूरिक एसिड एक वेस्ट प्रोडक्ट है जिसे हमारी किडनी फिल्टर करके पेशाब मार्ग से बाहर निकाल देती है, लेकिन जब किडनी अपना काम ठीक से नहीं कर पाती तो शरीर में यूरिक एसिड की मात्रा तेजी से बढ़ने लगती है. 

ये भी पढ़ें: लंबी उम्र तक यंग दिखने के लिए ये हैं कारगर ट्रिक्‍स, डॉक्‍टरों ने बताया तरीका

मायो क्लिनिक के अनुसार आजकल हर पांच में से एक व्यक्ति को हाइपरयूरिसीमिया की समस्या है. ऐसा माना जाता है कि यह समस्या केवल वयस्कों या उम्र के बढ़ने के साथ होती है. लेकिन, चिंता की बात यह है कि आजकल यह परेशानी बच्चों में भी पाई जा रही है. आइए जानते हैं बच्चों में हाइपरयूरिसीमिया और इसके लक्षणों के बारे में.

बच्चों में हाइपरयूरिसीमिया
बच्चों में यूरिक एसिड लेवल का बढ़ना चिंता का विषय है. ऐसा माना गया है कि अगर किसी बच्चे को यह समस्या है तो बड़े होने पर उसमें कई रोगों के होने की संभावना बढ़ जाती है जैसे हार्ट संबंधी समस्या, मधुमेह, ब्लड प्रेशर आदि. अगर बात की जाए हाइपरयूरिसीमिया का बच्चों में होने के कारणों के बारे में तो इसे खराब जीवनशैली को जिम्मेदार माना जा सकता है. खराब खान-पान भी इसका एक मुख्य कारण हो सकता है. इसके अलावा कुछ एक्यूट या क्रॉनिक कंडीशंस को भी इसका कारण माना जाता है.

बच्चों में हाइपरयूरिसीमिया के लक्षण क्या हैं? 

  • जोड़ों में समस्या बच्चों में हाइपरयूरिसीमिया का एक लक्षण हो सकता है. इसके कारण उसे जोड़ों में सूजन, अकड़न, गंभीर दर्द, लालिमा या जोड़ों को मूव करने में परेशानी हो सकती है.

  • इसका अन्य लक्षण हो सकता है किडनी में स्टोन होना. आजकल बच्चों में भी किडनी स्टोन की परेशानी देखी जा सकती है. जिसके लक्षण हैं पेट के निचले हिस्से, पीठ या ग्रोइन में तेज दर्द, यूरिन पास करने में समस्या होना.

ये भी पढ़ें: अपने ब्लेडर को हेल्दी बनाए रखने के लिए अपनाएं ये 5 टिप्स

कैसे करें बच्चों में हाइपरयूरिसीमिया का बचाव 

  • अपने बच्चे के शरीर में यूरिक एसिड की मात्रा को अधिक न बढ़ने से रोकने के लिए बच्चे के लिए सही जीवनशैली को अपनाना जरूरी है.
  • बच्चे को प्रीतिदिन व्यायाम या कोई फिजिकल एक्टिविटी करने के लिए कहें.
  • उनकी आहार संबंधी आदतों को सुधारें. राजमा, रेड मीट, सी फूड आदि का कम सेवन करने की सलाह दी जाती है. जंक फूड का सेवन भी सीमित मात्रा में या नहीं करना चाहिए.
  • हरी सब्जियां, फल, साबुत अनाज आदि अपने बच्चे को अधिक दें.

Tags: Health, Lifestyle



Source

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Most Popular

To Top