स्वास्थ्य

Eating Food On Banana Leaf: केले के पत्ते पर खाने के हैं कई फायदे, बढ़ाती है भोजन की न्‍यूट्रिशनल वैल्‍यू

Eating Food On Banana Leaf: केले के पत्ते पर खाने के हैं कई फायदे, बढ़ाती है भोजन की न्‍यूट्रिशनल वैल्‍यू


Eating Food On Banana Leaf : जब हम केले के पत्‍ते (Banana Leaf) पर खाना खाते हैं तो ये दिखने में तो खूबसूरत लगता ही है, सेहत (Health) के लिए भी ये कई तरह से फायदेमंद (Benefits) होता है. आमतौर पर दक्षिण भारतीय घरों या रेस्‍त्रां में केले के पत्ते पर भोजन कराने की परंपरा है. कुछ हिंदू घरों में तीज त्‍योहार के अवसर पर भगवान को भोग लगाने के लिए केले के पत्‍ते का इस्‍तेमाल किया जाता है.

शोधों में ये पाया गया है कि खाने के लिए कागज, प्‍लास्टिक या स्‍टील के प्‍लेट की तुलना में अगर केले के पत्‍ते का इस्‍तेमाल किया जाए तो ये हमारी सेहत के लिए बहुत फायदेमंद होता है. आइए जानते हैं कि केले के पत्‍ते पर खाने से और क्‍या क्‍या फायदा मिलता है.

केले के पत्‍ते पर खाने के फायदे

एंटीऑक्‍सीडेंट से भरपूर
केले के पत्‍ते में पॉलीफेनॉल्स नाम का एंटीऑक्सीडेंट पाया जाता है. जब इस पर खाना परोसा जाता है तो खाना भी कुछ मात्रा में इसे अवशोषित कर लेता है जो कई तरह की हेल्‍थ से जुड़ी समस्‍याओं से हमें बचाता है. यह शरीर में मौजूद फ्री रेडिकल्स से बचाने में भी मदद करता है. इसके अलावा इसमें एंटी बैक्टीरियल गुण होते हैं जो खाने में मौजूद बैक्टीरिया को समाप्त करने में मदद करता है और हम कई बीमारियों से बच सकते हैं.

इसे भी पढ़ें : Tips For Healthy Bones: हड्डियां हो रही हैं कमजोर तो आज से ही छोड़ दें ये बुरी आदतें

सस्‍ता विकल्‍प
केले के पत्‍तों पर भोजन करना सबसे किफायती और सस्‍ता विकल्‍प है. इसके लिए आपको अधिक खर्च नहीं करना पड़ता और आप बिना किसी बर्तन को खरीदे ही आसानी से केले के पत्‍ते पर कई लोगों को खिला सकते हैं.

हाइजेनिक
केले के पत्‍ते पर एक वैक्‍स जैसा कोटिंग होता है जिसकी वजह से पत्‍ते पर धूल मिट्टी या किसी तरह की गंदगी चिपक नहीं पाते. जबकि कई बार बर्तन आदि धोने के बाद भी साबुन आदि चिपका रह सकता है.

सोंधी खुशबू और स्वाद
केले के पत्तियों पर मोम की एक पतली परत होती है जिसका स्वाद बहुत अलग होता है. गर्म खाना केले के पत्तों पर परोसा जाए तो ये परत खोने के स्‍वाद को और भी बढ़ा देता है.

ईको फ्रेंडली
आमतौर पर पार्टी में प्लास्टिक या स्टीरोफोम के प्लेट्स का इस्तेमाल किया जाता है जिसे डिकंपोज करना मुश्किल होता है. ऐसे में आप केले के पत्ते का इस्तेमाल करें तो ये पर्यावरण को हानि नहीं पहुंचाता. इसके अलावा केले के पत्ते को साफ करने के लिए ज्यादा पानी की जरूरत नहीं होती है.

इसे भी पढ़ें: ज्यादा तनाव महसूस होने पर क्या करें? एक्सपर्ट से जानें नेगेटिव स्ट्रेस को कम करने का तरीका

केमिकल फ्री
प्लास्टिक की प्लेट में खाना परोसने से खाने में पिघली हुई प्लास्टिक का अंश कैंसर जैसीस बीमारियों का कारण बन सकता है. ऐसे में केले के पत्ते पर खाना स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद होता है. (Disclaimer: इस लेख में दी गई जानकारियां और सूचनाएं सामान्य मान्यताओं पर आधारित हैं. Hindi news18 इनकी पुष्टि नहीं करता है. इन पर अमल करने से पहले संबंधित विशेषज्ञ से संपर्क करें.)

Tags: Health, Lifestyle



Source

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Most Popular

To Top