स्वास्थ्य

Dry Amla Benefits: सूखा आंवला बालों के लिए ही नहीं सेहत के लिए भी है फायदेमंद

Dry Amla Benefits: सूखा आंवला बालों के लिए ही नहीं सेहत के लिए भी है फायदेमंद


Dry Amla Benefits: आंवले को आयुर्वेद में अमृतफल कहा गया है. यह विटामिन-सी का सबसे बेहतरीन स्रोत है. सौ ग्राम आंवले में करीब नौ सौ मिलीग्राम विटामिन-सी या एस्कॉर्बिक एसिड (Ascorbic acid) पाया जाता है. वैसे हो, जिन चीज़ों में विटामिन-सी होता है, खाने की उन चीज़ों को गर्म करने पर उसके गुण ख़त्म हो जाते हैं, जबकि आंवले में खास बात ये है कि गर्म करने पर या सुखाने पर भी इसमें विटामिन-सी ज्यों का त्यों बरकरार रहता है.

सुखाकर रखने पर आंवला ज्यादा दिन तक सुरक्षित रखा जा सकता है. आपको बता दें कि आंवले में पाया जाने वाला क्रोमियम नामक तत्व डायबिटीज़ के लिए बहुत फायदेमंद है. साथ ही इसके सेवन से विटामिन-सी और दूसरे पोषक-तत्वों की आपूर्ति भी शरीर में होती रहती है. सूखा आंवला हमारी सेहत और त्वचा के साथ ही बालों के लिए भी बहुत फ़ायदेमंद होता है. ओन्लीमाईहेल्थ के मुताबिक, सूखे आंवले का इस्तेमाल सेहत से जुड़ी कई और समस्यायें दूर करने में भी किया जा सकता है. आइए जानते हैं सूखे आंवले के सेहत से जुड़े फायदों के बारे में.

इम्यूनिटी बूस्टर
आंवला विटामिन-सी, ए व फाइटोन्यूट्रिएंट्स के साथ ही एंटी-ऑक्सीडेंट से भरपूर होता है. इतना ही नहीं सूख जाने पर भी आंवले में ये सभी गुण बने रहते हैं. ये सारे तत्व शरीर की रोग-प्रतिरोधक क्षमता यानी इम्यूनिटी को मजबूती देने में  मददगार होती हैं.

ये भी पढ़ें: Side Effects of Gooseberry or amla: इन दिक्कतों में न करें आंवले का सेवन, बढ़ सकती है परेशानी

प्रेग्नेंसी के दौरान उल्टी की समस्या में

सूखा आंवला मुंह में रखकर चूसने से प्रेग्नेंसी के दौरान बार-बार आने वाली उल्टियों और जी मिचलाने जैसी समस्याओं में काफी राहत मिलती है. गर्भवती महिलाओं को सूखा आंवला खासतौर पर इस्तेमाल करना चाहिए. इसके सेवन से आंवले में मौजूद विटामिन और अन्य पोषक-तत्व भी मां के शरीर को मिलता है.

पेट दर्द में सूखा आंवला
सूखा आंवला पॉलीफिनॉल नाम के एंटी-ऑक्सीडेन्ट से भरपूर होता है, जो पेट में टॉक्सिन्स यानी कि विषैले-तत्वों को कम करता है. इस तरह से आंवला पेट दर्द में भी कारगर साबित हो सकता है, इसलिए पेट में जलन या ऐंठन जैसी शिकायत हो, तो सूखे आंवले का इस्तेमाल इसमें बहुत राहत पहुंचा सकता है.

मुंह की बदबू में आंवले का सेवन
आंवले में मौज़ूद एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण मुंह में बदबू पैदा करने वाले बैक्टीरिया को पनपने से रोकता है. इसे आप चबाते हुए धीरे-धीरे खा सकते हैं. मुंह की बदबू की समस्या दूर करने के लिए यह कारगर उपाय है. इस बात का ध्यान रखें कि कच्चे आंवले को ज्यादा देर तक मुंह में रखने से दांतों को नुकसान पहुंच सकता है.

ये भी पढ़ें: आंवला ही नहीं इसकी गुठली भी देती है सेहत को कई सारे फायदे

आंखों की सेहत को रखता है दुरुस्त
आंवले में विटामिन-सी और ए प्रचुर मात्रा में पाया जाता है, जो हमारी आंखों की रोशनी बढ़ाने और उन्हें स्वस्थ बनाए रखने के लिए ज़रूरी होते हैं. इसलिए सूखे आंवले का नियमित सेवन करने से हमारी आंखों को भी बहुत फ़ायदा पहुंचता है.

 एसिडिटी में सूखा आंवला
अक्सर तली-भुनी या मसालेदार चीजें ज्यादा खा लेने पर हमें पेट में एसिडिटी यानी अम्लपित्त की समस्या हो जाती है. ऐसे में सूखा आंवला बहुत फ़ायदेमंद है. सूखे आंवले का सेवन करने से एसिडिटी की दिक्कत में तुरंत राहत मिलती है.,क्योंकि आंवला खुद एसिडिक नेचर का होता है.

Tags: Health, Health benefit, Lifestyle



Source

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Most Popular

To Top