स्वास्थ्य

Brain power: इस म्यूजिक को बजाने से दौड़ने लगता है दिमाग, शार्प होती है मेमोरी

Brain power: इस म्यूजिक को बजाने से दौड़ने लगता है दिमाग, शार्प होती है मेमोरी


हाइलाइट्स

अध्ययन में कहा गया कि पियानो सीखने से दिमागी क्षमता पर सकारात्मक असर पड़ता है
पियानो सीखने वाले पहले से ज्यादा स्मार्ट तरीके से सोचने लगे.

Playing piano boost memory power: म्यूजिक को सही से सुना जाए तो दिल के तार झनझना उठते हैं. इससे दिल को सुकून मिलता है. जाहिर है संगीत दिल की सेहत के लिए अच्छा माना जाता है लेकिन अब एक नए अध्ययन में दावा किया गया है कि पियानो बजाने से ब्रेन पावर में इजाफा होता है और मेमोरी शार्प होती है. अध्ययन में कहा गया है कि पियानो सीखने भर से इंसान की सूझ-बूझ बढ़ जाती है और सोचने विचारने का नजरिया बदल जाता है. यह अध्ययन अमेरिका के यूनिवर्सिटी ऑफ बाथ में किया गया है. अध्ययन में कहा गया कि पियानो सीखने से दिमागी क्षमता पर सकारात्मक असर पड़ता है. यहां तक कि नई जगहों को याद रखने, आवाज को पहचानने और मूड को बेहतर बनाने में पियानो का जवाब नहीं है. इस अध्ययन को नेचर साइंटिफिक रिपोर्ट में प्रकाशित किया गया है.

इसे भी पढ़ें- Heart attack: हार्ट अटैक के समय एस्पिरिन की गोली क्या सच में मौत से बचाती है? जानें क्या कहते हैं डॉक्टर और क्या हो SOS

डिप्रेशन, एंग्जाइटी भी दूर करता है पियानो
एचटी की खबर के मुताबिक अध्ययन के शोधकर्ताओं ने बताया कि पियानो सीखने के लिए आए लोगों के दिमागी सोच में कमाल का फर्क देखा गया. ये लोग सप्ताह में सिर्फ एक घंटे पियानो सीखने आते थे. 11 सप्ताह के अंदर इन लोगों ने ऑडियो-विजुअल फर्क को पहचानने में कामयाबी हासिल कर ली. इसके साथ ही इन लोगों को डिप्रेशन, स्ट्रेस और एंग्जाइटी से छुटकारा मिल गया. शोधकर्ताओं ने अपने अध्ययन में 31 वयस्कों को शामिल किया. ये लोग या म्यूजिक सीख रहे थे या सुन रहे थे. इससे पहले इन लोगों को पियानो या म्यूजिक का कोई ज्ञान नहीं था. कुछ ही सप्ताह बाद शोधकर्ताओं ने इन लोगों में कमाल का परिवर्तन देखा. जो लोग पियानो सीख रहे थे वे कई चीजों में पहले से ज्यादा स्मार्ट तरीके से सोचने लगे. उनकी ड्राइविंग स्किल बेहतर हो गई. सड़क पार करने का तरीका स्मार्ट हो गया. भीड़ भाड़ वाली जगहों में भी अपने साथियों को आसानी से तलाशने में मदद मिली. जोर से टीवी चलते वक्त भी दूसरी तरह की आवाजों को पहचानने में मदद मिली.

स्मार्ट सोच को विकसित करता है पियानो
अध्ययन में पाया गया कि जो लोग पियानो सीख रहे थे उनमें बहुउद्देशीय सुधार हुआ. म्यूजिक को तो उन्होंने सीखा है, इसके साथ ही वे अपने टास्क को सटीकता से पूरा करने लगे. अब वे जो भी टेस्ट देते थे, उसमें पहले से ज्यादा निखार आ गया. इनके सामने एक साथ साउंड और विजुअल को प्ले किया गया. जब इनसे पूछा गया कि इन दोनों में क्या-क्या हुआ तो इन्होंने सटीक उत्तर दिया. इन लोगों में बौद्धिक क्षमता का इस कदर विकास हुआ जो पहले कभी नहीं था. शोधकर्ताओं ने बताया कि जिन लोगों को मेंटल हेल्थ संबंधी दिक्कतें हैं, उन्हें म्यूजिक जरूर सीखना चाहिए.

प्रमुख शोधकर्ता यूनिवर्सिटी ऑफ बाथ के डॉ करीन पेत्रिनी ने बताया, “हम यह पहले से जानते हैं कि म्यूजिक को बजाने और सुनने में आनंद आता है. मन को सुकून मिलता है लेकिन इस अध्ययन में यह देखना दिलचस्प है कि इतने कम समय में म्यूजिक सीखने वाले लोगों में बौद्धिक क्षमता का विकास हुआ. म्यूजिक सीखने का सीधा लाभ तुरंत मिला.” उन्होंने बताया कि पियानो बजाना अपेक्षाकृत काफी मुश्किल है क्योंकि इसमें स्कोर पढना होता है और उस हिसाब से मूवमेंट बनाना होता है. अन्य इंस्ट्रूमेंट के मुकाबले पियानो को सीखना मुश्किल है लेकिन इसे सीखने से दिमागी क्षमता का विकास होता है और इंसान जीवन के हर क्षेत्र में स्मार्ट तरीके से सोचने लगता है.

Tags: Health, Health tips, Lifestyle



Source

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Most Popular

To Top