स्वास्थ्य

Best Bathing Time: कब नहाना चाहिए और कब नहीं? जानें टाइम के हिसाब से नुकसान और फायदे

Best Bathing Time: कब नहाना चाहिए और कब नहीं? जानें टाइम के हिसाब से नुकसान और फायदे


Best Bathing Time: हमारी नहाने संबंधी आदतें अक्सर अनियमित (Irregular) ही हो जाती हैं. बहुत से लोग तो सर्दियों के मौसम में कई-कई दिन नहीं नहाते वहीं बहुत लोग गर्मियों के दौरान एक ही दिन में कई-कई बार नहा लेते हैं. लेकिन आपको स्नान (Bath) का महत्व समझना चाहिये और अपनी जीवन-शैली से संबंधित हर दूसरी चीज की तरह नहाने के लिये भी कुछ नियमों का खास ख्याल रखना चाहिये. कई एक्सपर्ट्स सुबह (Morning) की तुलना में शाम को नहाना ज्यादा फ़ायदेमंद मानते हैं. क्योंकि स्नान करते समय आप शरीर की केवल साफ-सफाई ही नहीं कर रहे होते बल्कि उस वक़्त आपका रक्त-संचार भी दुरुस्त होता है और नहाने से आपका मानसिक अवसाद भी दूर हो जाता है. इस तरह नहाने से आपके भीतर तमाम बदलाव होते हैं.

इसलिये यह जानना जरूरी हो जाता है कि आपको कब स्नान करना चाहिये और कब नहीं. तो आज हम यहां इसी संबंध में बात करने वाले हैं कि आपको नहाने का समय कैसे तय करना चाहिये. साथ ही नहाते समय किन-किन बातों का ख्याल रखना चाहिये.

नहाने का समय
हम सब अमूमन रोज सुबह उठकर फ्रेश होकर और ब्रश वगैरह करके नहा लेते हैं. तो हम में से कुछ लोग इसके साथ ही शाम को फिर नहाते हैं, खासतौर पर गर्मियों में. पर क्या आप जानते हैं कि डॉक्टर्स के मुताबिक शाम को नहाना सुबह के स्नान से भी कहीं ज्यादा फ़ायदेमंद है. दरअसल दिन भर में कामकाज के दौरान आपके शरीर और बालों पर तमाम धूल-मिट्टी जमा हो जाती है. खासतौर पर गर्मियों और बारिश के मौसम के दौरान. ऐसे में नहा लेने से आप बिस्तर पर जाने से पहले साफ-सुथरे हो जाते हैं. साथ ही नहाने से आपके दिमाग को भी सुकून मिलता है और आपको नींद अच्छी आती है. इसलिये सुबह नहाने के साथ ही शाम के वक़्त भी नहाने की आदत कहीं ज्यादा बेहतर होती है.

ये भी पढ़ें: Skin Care Tips: सादे नहीं, हल्दी वाले पानी से नहाएं, स्किन को मिल सकते हैं कई फायदे

शाम के समय नहाने के फ़ायदे
शाम के समय नहाने से आपके शरीर पर पूरे दिन के दौरान जमी धूल-मिट्टी और जीवाणुओं की सफाया हो जाता है. इससे आप कई तरह के संक्रमण और रोगों से बचे रहते हैं. शाम के समय नहाने से आपका ब्लड-प्रेशर भी नियंत्रण में रहता है. गर्मियों में दिन भर की तपन से मुक्ति पाने के लिये शाम को नहाना एक अच्छा विकल्प है. साथ ही नहाने से आपको एक ताज़गी का अहसास होता है और दिलो-दिमाग को आराम मिलता है, जिससे नींद की क्वालिटी बेहतर होती है. इसलिये शाम को नहाना अपने आप में काफी मुफ़ीद है.

कब नहीं नहायें
जैसे शाम को नहाने के अपने फायदे हैं और सुबह के अपने उसी तरह सुबह का एक समय ऐसा भी होता है जब नहीं नहाना चाहिये. क्योंकि उस समय नहाने से सेहत को फ़ायदे की बजाय नुकसान अधिक होता है. जैसे खाना खाने के फौरन बाद नहाने से स्वास्थ्य को काफी नुकसान पहुंचता है.

ये भी पढ़ें: Bathing Tips: नहाते वक्त न करें ये गलतियां वरना ब्यूटी हो जाएगी खत्म

आयुर्वेद में खाने के करीब एक-दो घंटे बाद तक नहाने से मना किया गया है. इसी तरह सोने से पहले नहाना भी नहीं ठीक होता. इसके अलावा अगर आपको गर्मियों के दौरान दिन भर में कई बार शॉवर लेने की आदत है तो इससे बचें. (Disclaimer: इस लेख में दी गई जानकारियां और सूचनाएं सामान्य मान्यताओं पर आधारित हैं. Hindi viralfloat इनकी पुष्टि नहीं करता है. इन पर अमल करने से पहले संबंधित विशेषज्ञ से संपर्क करें.)

Tags: Health, Health tips, Lifestyle



Source

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Most Popular

To Top