स्वास्थ्य

Benefits of Watermelon: गर्मी में प्रेग्नेंट महिलाओं को जरूर खाना चाहिए तरबूज, जानें फायदे

Benefits of Watermelon: गर्मी में प्रेग्नेंट महिलाओं को जरूर खाना चाहिए तरबूज, जानें फायदे


Benefits of Watermelon in Pregnancy: गर्मी में तरबूज काफी मिलता है. इस फल में सबसे ज्यादा पानी होता है. भीषण गर्मी के मौसम में इस फल के सेवन से शरीर में पानी की कमी नहीं होती है. तरबूज में मौजूद पोषक तत्वों की बात करें तो इसमें पानी के साथ ही फाइबर, आयरन, कई तरह के विटामिंस, मैग्नीशियम, पोटैशियम, लाइकोपीन आदि मौजूद होते हैं. बच्चों से लेकर बुजुर्गों तक को तरबूज (Tarbuj) खाने से कई स्वास्थ्य लाभ (Benefits of Watermelon) होते हैं. इतना ही नहीं, प्रेग्नेंट महिलाओं को भी गर्भावस्था में होने वाली समस्याओं जैसे मॉर्निंग सिकनेस (Morning skickness), डिहाइड्रेशन, एसिडिटी, सीने में जलन जैसी समस्याओं से राहत दिलाता है. आइए जानते हैं, गर्भावस्था में तरबूज का सेवन और क्या-क्या लाभ (pregnancy me tarbooj khane ke fayde) पहुंचाता है.

इसे भी पढ़ें: आज ही जान लें तरबूज खाने के ये 7 जबरदस्त फायदे, स्ट्रेस से जुड़ा है कनेक्शन

प्रेग्नेंसी में तरबूज खाने के फायदे

  • स्टाइलक्रेज में छपी एक रिपोर्ट के अनुसार, अक्सर गर्भावस्था में महिलाओं को सीने में जलन, गैस जैसी डाइजेस्टिव समस्याएं होती हैं. तरबूज खाने (pregnancy me tarbooj khane ke fayde) से पेट के साथ ही फूड पाइप को भी आराम मिलता है. तरबूज में मौजूद कूलिंग प्रॉपर्टीज जलन, गैस को शांत करता है.
  • यदि आपको हाथ-पैरों में सूजन की समस्या रहती है, तरबूज का सेवन करें. प्रेग्नेंसी के दौरान सूजन की समस्या बहुत कॉमन होती है. जैसा कि आप जानते हैं कि तरबूज में पानी की मात्रा सबसे अधिक होती है. यह नसों और मांसपेशियों में ब्लॉकेज होने से बचाता है, जिससे सूजन नहीं होती है.

इसे भी पढ़ें: केवल तरबूज ही नहीं इसके छिलके के भी हैं ढेरों फायदे

  • अक्सर गर्भावस्था की पहली तिमाही में मॉर्निंग सिकनेस, थकान से महिलाएं परेशान रहती हैं. यदि आप सुबह के समय तरबूज खाती हैं, तो तरोताजा और हल्का महसूस करेंगी. इसमें कुछ ऐसे तत्व होते हैं, जो शरीर को ऊर्जा से भरकर मॉर्निंग सिकनेस की समस्या को दूर करते हैं.
  • प्रेग्नेंसी में डिहाइड्रेशन की समस्या बिल्कुल भी ठीक नहीं है. आपके शरीर में पर्याप्त पानी की मात्रा होनी चाहिए, ताकि गर्भ में पल रहे शिशु को कोई समस्या ना हो. ऐसे में हर प्रेग्नेंट लेडी को पर्याप्त मात्रा में पानी पीने की सलाह दी जाती है. आप पानी वाले फलों का सेवन भी कर सकती हैं, जिसमें तरबूज, खरबूजा, खीरा, ककड़ी शामिल हैं. डिहाइड्रेशन होने से समय से पहले डिलीवरी का खतरा बढ़ जाता है.
  • अक्सर प्रेग्नेंसी में कुछ महिलाओं को स्किन संबंधित समस्याएं जैसे मुंहासे, पिग्मेंटेशन, झाइयां हो जाती हैं. तरबूज में फाइबर होता है, जो बाउल मूवमेंट को सुचारू बनाए रखता है, इससे पेट साफ होता है, कब्ज की समस्या नहीं होती है. भोजन भी आसानी से पच जाता है. पेट साफ होने से त्वचा संबंधित समस्याएं नहीं होती हैं.
  • गर्भवास्था में किसी भी इंफेक्शन, रोग से बचे रहने के लिए रोग प्रतिरोधक क्षमता को बूस्ट करना जरूरी है. प्रेग्नेंसी में इम्यूनिटी पावर कमजोर हो जाती है. इसे बूस्ट करने के लिए आप तरबूज खा सकती हैं. इस फल में एंटीऑक्सीडेंट लाइकोपीन होता है, जो प्रीएक्लेम्प्सिया के जोखिम को कम कर देता है.
  • फाइबर होने के कारण गर्भावस्था में होने वाली कब्ज की समस्या को दूर करता है तरबूज का सेवन. बाउल मूवमेंट सही करता है, स्टूल को ढीला करता है. साथ ही यूरिनरी ट्रैक इंफेक्शन को भी कम करता है. गर्भ में पल रहे भ्रूण की हड्डियों के विकास में मदद करता है.

Tags: Health, Health tips, Lifestyle



Source

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Most Popular

To Top