स्वास्थ्य

हाई यूरिक एसिड से बचना है, तो नॉन-वेज के साथ इन वेजिटेरियन फूड्स से बनाएं दूरी, गाउट का खतरा होगा कम

हाई यूरिक एसिड से बचना है, तो नॉन-वेज के साथ इन वेजिटेरियन फूड्स से बनाएं दूरी, गाउट का खतरा होगा कम


हाइलाइट्स

यूरिक एसिड के मरीजों को नॉन-वेज से पूरी तरह दूरी बना लेनी चाहिए.
कुछ सब्जियों और दालों का ज्यादा सेवन भी यूरिक एसिड बढ़ा सकता है.

Diet Tips For Uric Acid Patients: अब तक आपने सुना होगा कि हाई यूरिक एसिड की समस्या से जूझ रहे लोगों को नॉन वेज नहीं खाना चाहिए. यह बात बिल्कुल सही है कि नॉन वेज खाने से यूरिक एसिड की प्रॉब्लम ट्रिगर हो सकती है और आपको गाउट जैसी दर्दनाक कंडीशन का सामना करना पड़ सकता है. अधिकतर लोग समझते हैं कि सभी तरह के वेजिटेरियन फूड्स खाने से यूरिक एसिड में आराम मिलता है, लेकिन ऐसा नहीं है. कुछ वेजिटेरियन फूड्स भी ऐसे होते हैं, जिनका सेवन करने से आपका यूरिक एसिड लेवल बढ़ सकता है. इस बारे में जानना बेहद जरूरी है.

नई दिल्ली के सर गंगाराम हॉस्पिटल के यूरोलॉजी डिपार्टमेंट के सीनियर कंसलटेंट डॉ. अमरेंद्र पाठक के अनुसार हाई यूरिक एसिड के मरीजों को हाई प्यूरिन और हाई प्रोटीन फूड्स का ज्यादा सेवन करने से भी बचना चाहिए. दाल का ज्यादा इनटेक भी परेशानी पैदा कर सकता है. खाने-पीने और लाइफस्टाइल में लेकर किए गए बदलाव से आप यूरिक एसिड को काफी हद तक कंट्रोल कर सकते हैं. हालांकि यूरिक एसिड का लेवल सबसे ज्यादा हो गया है तो लापरवाही ना बरतें और डॉक्टर से मिलें. कई बार किडनी या लिवर की दिक्कतों की वजह से यूरिक एसिड बढ़ जाता है. ऐसे में सही इलाज न कराने से किडनी फेलियर की नौबत आ सकती है.

यह भी पढ़ें- पसीने में नहीं होती कोई स्मेल, शरीर से आने वाली बदबू की वजह जानकर चौंक जाएंगे

इन वेजिटेरियन फूड्स से भी बनाएं दूरी

जानकारों की मानें तो हाई यूरिक एसिड के मरीजों को पालक, मटर, फूलगोभी और शतावरी जैसी सब्जियां कम मात्रा में ही खानी चाहिए. सर्दियों में मटर और फूलगोभी सबसे ज्यादा पसंदीदा सब्जियों में से एक होती है और अधिकतर खाने-पीने की चीजों में डाली जाती है. अगर आप हाई यूरिक एसिड के मरीज हैं या आपको गाउट की समस्या है, तो इन सब्जियों से दूरी बनाने में ही फायदा रहेगा. दालों का ज्यादा सेवन न करें और अपनी डाइट को बैलेंस रखें. पानी ज्यादा से ज्यादा पिएं.

यूरिक एसिड को इन तरीकों से भी करें कंट्रोल

डॉ. अमरेंद्र पाठक कहते हैं कि यूरिक एसिड को कंट्रोल करने के लिए आपको हर दिन कम से कम 30 मिनट तक एक्सरसाइज जरूर करनी चाहिए. अपने सोने और जागने का समय तय करना चाहिए और देर रात तक जागने से बचना चाहिए. नॉनवेज से पूरी तरह दूरी बना लेनी चाहिए और अल्कोहल का सेवन भी कम से कम करना चाहिए. अगर आप शुरुआत में ही यूरिक एसिड का इलाज कराना शुरू कर देंगे तो कुछ ही महीनों में आपको इससे पूरी तरह छुटकारा मिल सकता है. सभी को समय-समय पर अपना यूरिक एसिड टेस्ट जरूर कराना चाहिए, ताकि वक्त रहते बीमारी का पता लग सके.

यह भी पढ़ें- जड़ से खत्म हो जाएगी हाई कोलेस्ट्रॉल की समस्या, घर की इन चीजों से तैयार करें ‘दवा’

Tags: Health, Lifestyle, Trending news



Source

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Most Popular

To Top