स्वास्थ्य

सुबह सबसे पहले गुनगुना पानी पीना कितना सही? आयुर्वेद विशेषज्ञ से जानिए

सुबह सबसे पहले गुनगुना पानी पीना कितना सही? आयुर्वेद विशेषज्ञ से जानिए


सुबह-सुबह कुछ लोग एक कप गर्म चाय या कॉफी पीना पसंद करते हैं, जबकि कुछ लोगों को जागने के बाद नींबू पानी पीना भाता हैं. लेकिन क्या ओवरऑल हेल्थ और फिटनेस को सुनिश्चित करने और दिन को किक स्टार्ट देने के लिए किसी एक उपाय की सिफारिश की जा सकती है? इस मामले में आयुर्वेदिक प्रैक्टिशनर डॉ. दीक्षा भावसार (Dr Dixa Bhavsar) का सुझाव है कि आप अपने दिन की शुरुआत एक गिलास गुनगुने पानी (Warm Water) से करें. हालांकि उनका ये भी कहना है कि अगर आप हाईपरएसिडिटी, अल्सर, अत्यधिक गर्मी से जुड़ी परेशानियां और दुर्बलता से पीड़ित हों तो इससे बचें.

डॉ भावसार ने अपनी इंस्टाग्राम पोस्ट में लिखा, “आपको सुबह सबसे पहले उष्णोदक (गुनगुना पानी) पीने का पछतावा नहीं होगा. विशेष रूप से यात्रा के दौरान, सुबह सबसे पहले गुनगुना पानी पीना आपके लिए बेहतरीन रूप से काम करता है.”

डॉ. दीक्षा भावसार (Dr Dixa Bhavsar) ने अपनी पोस्ट में बताया कि कैसे सुबह गुनगुना पानी पीना आपकी सेहत के फायदेमंद हो सकता है. खासकर अगर आप किसी यात्रा पर हो तो.

ये कैसे मदद करता है?

– ये आपकी आंतों को आसानी से साफ करने में मदद करता है.
– आपकी लालसा को दूर रखता है.
– आपको हल्का महसूस करने में मदद करता है, आपको ब्लोटिंग और गैस्ट्रिक समस्याओं से दूर रखता है.
– आपकी भूख में सुधार करता है.
– आपकी स्किन को साफ रखता है.
–  सबसे अच्छी बात ये है कि ये आपको यात्रा के दौरान आपके द्वारा खाए जाने वाले भोजन के कारण वजन बढ़ने से दूर रखता है (क्योंकि ये आपको कैलोरी बर्न करने में मदद करता है)

यह भी पढ़ें-
कॉफी फीकी पिएं या कम मीठी, उम्र बढ़ाने में होती है मददगार- स्टडी

आयुर्वेद शरीर के प्रकार या दोष आधार पर उबला हुआ पानी पीने के लिए तीन अलग-अलग तापमानों का सुझाव देता है. मतलब किन दोष वालों को कितना गर्म पानी पीना चाहिए.

आदर्श तापमान क्या है?

– कफ दोष के लोग गर्म पानी की चुस्की ले सकते है. ये शरीर से टॉक्सिक निकालता है. जिससे कफ टाइप की स्किन तैयार होती है.

– पित्त दोष वालों को उबले हुए पानी को शरीर के तापमान (बॉडी टेम्प्रेचर) तक ठंडा करना चाहिए और फिर उसे सिप करना चाहिए. गर्म तापमान से बचने के लिए पित्त दोष वालों को सावधान रहना चाहिए.

– वात दोष वाले लोग गर्म और ठंडे पानी से परहेज करते हुए गुनगुना पानी पी सकते हैं. उनकी ठंडी, ड्राई स्किन को हाईड्रेट करने के लिए, नाड़ियों को साफ करने और आम (जो भोजन पचा नहीं) को जलाने के लिए गुनगुने-तापमान वाले पानी की जरूरत होती है.

यह भी पढ़ें-
क्या है वजन घटाने का ‘बाउल मेथड’? जानें, इसमें खाने के हिस्से को कैसे करें कंट्रोल

“तो हर तरह से, अगर आप अपना वजन कम करना या उसे मेंटेन रखना चाहते हैं, अपने मेटाबॉलिज्म में सुधार करना चाहते हैं, कब्ज और ब्लोटिंग को दूर करना चाहते हैं और अपनी स्किन को साफ रखना चाहते हैं, तो सुबह गुनगुना पानी पीना आपके लिए सबसे अच्छा है.” डॉ भावसार ने कहा.

Tags: Health, Health News, Lifestyle





Source

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Most Popular

To Top