स्वास्थ्य

रिसर्च का बड़ा दावा- विटामिन B6 सप्लीमेंट लेने से एंजाइटी और डिप्रेशन से मिलेगा छुटकारा

रिसर्च का बड़ा दावा- विटामिन B6 सप्लीमेंट लेने से एंजाइटी और डिप्रेशन से मिलेगा छुटकारा


हाइलाइट्स

ब्रेन की एक्टिविटी को कंट्रोल करने में भी सप्लीमेंट मददगार होता है.
विटामिन B6 की हाई डोज लेने से मूड को बेहतर बनाया जा सकता है.

Tips To Reduce Anxiety & Depression: पूरी दुनिया में मेंटल हेल्थ से जुड़ी समस्याएं बढ़ती जा रही हैं. अधिकतर लोग मेंटल हेल्थ को सीरियसली नहीं लेते और इसकी वजह से मेंटल इलनेस की चपेट में आ जाते हैं. आमतौर पर मेंटल प्रॉब्लम्स तनाव (Stress) से शुरू होती हैं. लापरवाही बरतने पर एंजाइटी व डिप्रेशन जैसी कंडीशन पैदा हो जाती है. एंजाइटी और डिप्रेशन की चपेट में इन दिनों करोड़ों लोग हैं, जो इससे निजात पाने के लिए काफी कोशिशें कर रहे हैं. एक हालिया रिसर्च में ऐसे लोगों के लिए अच्छी खबर सामने आई है. इसमें बताया गया है कि किस तरह एंजाइटी और डिप्रेशन की समस्या को आसानी से कम किया जा सकता है.

Vitamin B6 सप्लीमेंट को बताया गया कारगर

ANI की रिपोर्ट के मुताबिक ब्रिटेन में की गई एक स्टडी में सामने आया है कि हर दिन Vitamin B6 सप्लीमेंट की खुराक लेने से एंजाइटी और डिप्रेशन को काफी हद तक कम किया जा सकता है. यह स्टडी यूनिवर्सिटी ऑफ रीडिंग के शोधकर्ताओं ने की है. इस स्टडी में शामिल लोगों को करीब 1 महीने तक विटामिन B6 सप्लीमेंट्स के हाई डोज दिए गए. इसके बाद लोगों को एंजाइटी और डिप्रेशन का असर काफी कम महसूस हुआ. ट्रायल में दावा किया गया कि यह सप्लीमेंट मूड डिसऑर्डर से बचाने में भी कारगर साबित हो सकता है. यह ब्रेन को शांत करता है और मूड को बेहतर बनाता है.

यह भी पढ़ें- एक्सरसाइज करने से डायबिटीज का खतरा कैसे होता है कम? सामने आई वजह

ब्रेन को शांत रखने में मिलती है मदद

इस रिसर्च के लीड ऑथर डॉ. डेविड फील्ड के मुताबिक मूड की फंक्शनिंग न्यूरॉन्स (Neurons) के बैलेंस पर निर्भर करती है. जब ब्रेन में न्यूरॉन्स का बैलेंस बिगड़ जाता है, तब मूड डिसऑर्डर और न्यूरोसाइकाइट्रिक जैसी परेशानियां हो जाती हैं. ऐसी कंडीशन में ब्रेन की एक्टिविटी भी बढ़ जाती है. विटामिन B6 शरीर में एक खास केमिकल प्रोड्यूस करता है, जिससे ब्रेन को शांत रखने में मदद मिलती है और एंजाइटी कम हो जाती है. यह ब्रेन एक्टिविटी को कंट्रोल करने में मदद करता है.

फल और सब्जियों में भी होता है विटामिन B6

शोधकर्ताओं के मुताबिक वैसे तो विटामिन B6 टूना मछली, चने, फल और सब्जियों में भी पाया जाता है, लेकिन एंजाइटी और डिप्रेशन को कम करने के लिए स्टडी में हाई डोज का इस्तेमाल किया गया था, जो सप्लीमेंट्स के बिना संभव नहीं था. इससे यह भी साफ होता है कि मूड को बेहतर बनाने के लिए विटामिन B6 का सप्लीमेंट लेना जरूरी हो सकता है. इस स्टडी के परिणाम काफी बेहतर मिले, लेकिन इसमें केवल 300 लोगों को शामिल किया गया था. ऐसे में यह कहना मुश्किल है कि विटामिन B6 सप्लीमेंट अन्य दवाओं की अपेक्षा बेहतर काम कर सकता है. इसके लिए आगे भी स्टडी करने की जरूरत है.

यह भी पढ़ें- पॉल्यूशन से याददाश्त हो सकती है कमजोर, डिप्रेशन का बढ़ता है खतरा

Tags: Anxiety, Depression, Health, Lifestyle, Mental health



Source

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Most Popular

To Top