स्वास्थ्य

बेसन एक काम अनेक, 5 बेमिसाल फायदे जानकर हो जाएंगे हैरान, शुगर-कोलेस्ट्रॉल का है दुश्मन

बेसन एक काम अनेक, 5 बेमिसाल फायदे जानकर हो जाएंगे हैरान, शुगर-कोलेस्ट्रॉल का है दुश्मन


हाइलाइट्स

बेसन के आटे में प्रचूर मात्रा में जिंक पाया जाता है. इसलिए यह कील-मुंहासों, एक्ने पिंपल से छुटकारा दिलाता है.
2010 की एक स्टडी के मुताबिक बेसन वजन कम करने में भी बहुत मददगार है.

Besan controls Diabetes: चने का आटा यानी बेसन बेहद पौष्टिक खाद्य पदार्थ है. यह जितना खाने में स्वादिष्ट होता है उतना ही यह कई बीमारियों में भी उपयोगी है. बेसन में बहुत अधिक मात्रा में फाइबर और प्रोटीन पाया जाता है. इससे डाइजेशन बहुत स्मूद होता है और डायबिटीज के मरीजों में ब्लड शुगर को बहुत कम कर देता है. बेसन गंदा कोलेस्ट्रॉल के लेवल को भी बहुत कम कर देता है. हार्ट की हेल्थ और वजन कम करने के लिए बेसन की रोटियां बेहद कारगर हथियार साबित हो सकता है.

बेसन के आटे से कई पकवान बनाए जाते हैं. बेसन के आटे को सत्तू बनाकर पिया जाता है. इसके अलावा बेसन के आटे से रोटियां बनाई जाती है. बेसन की सब्जी भी बनाई जाती है. बेसन अंडा का बेहतर विकल्प है. बेसन के आटे में लिनलिक एसिड और ओलिएक एसिड पाया जाता है जो अनसैचुरेटेड फैट होता है. इसके अलावा इसमें राइबोफ्लोविन, नियासिन, फॉलेट और बीटा कैरोटिन भी पाया जाता है जो स्किन की हेल्थ के लिए भी बहुत फायदेमंद है.

बेसन के फायदे

कील-मुंहासों से छुटकारा-स्टाइलक्रेज वेबसाइट के मुताबिक बेसन के आटे में प्रचूर मात्रा में जिंक पाया जाता है. इसलिए यह कील-मुंहासों, एक्ने पिंपल से छुटकारा दिलाता है. बेसन के आटे का फेसपैक बनाकर इसे आप स्किन पर लगा सकता है. यह स्किन में ग्लो लाता है. बेसन के आटे में गुलाबजल मिलाकर इसका फेसपैक बना लें और इसे चेहरे पर लगा लें. कुछ देर बाद गुनगुने पानी से इसे धो लें.

कोलेस्ट्रॉल को कम करता है-यूनिवर्सिटी ऑफ टोरंटो के एक अध्ययन में यह पाया गया था कि बेसन बैड कोलेस्ट्रॉल को बहुत हद तक कम कर देता है. इसमें मौजूद फाइबर के कारण यह कोलेस्ट्रॉल को बढ़ने नहीं देता. एक ऑस्ट्रेलियन स्टडी में भी पाया गया था कि बेसन के सेवन से बैड कोलेस्ट्रॉल नहीं बढ़ता.

डायबिटीज को कंट्रोल करता-एक अध्ययन में पाया गया कि बेसन के सेवन से डायबिटीज बहुत कंट्रोल रहता है. जिसे डायबिटीज नहीं है, वह अगर बेसन का सेवन करें तो उसमें डायबिटीज होने का खतरा बहुत कम हो जाता है. बेसन ग्लूटिन फ्री आहार है. इसका ग्लाइसेमिक इंडेक्स भी बहुत कम होता है. यही कारण है एक्सपर्ट डायबिटीज के मरीजो को बेसन खाने की सलाह देते हैं.

हेल्दी हार्ट-बेसन में कई तरह विटामिन, मिनिरल्स और फाइबर मौजूद रहता है जो हार्ट की हेल्थ के लिए बहुत अच्छा माना जाता है. एक अध्ययन में पाया गया तीन चम्मच में उतना ही पोटैशियम होता है जितना केले में होता है. पोटैशियम ब्लड प्रेशर को कम करने वाला माना जाता है.

वजन कम करने में मददगार-2010 की एक स्टडी के मुताबिक बेसन वजन कम करने में भी बहुत मददगार है. स्टडी कुछ प्रतिभागियों पर 12 सप्ताह तक अध्ययन किया. अध्ययन में पाया गया कि बेसन के सेवन के बाद भूख बहुत कम लगने लगी. इससे लोगों का पेट हमेशा भरा हुआ रहता महसूस होता है.

इसे भी पढ़ें-डायबिटीज के मरीजों में फैटी लिवर को जड़ से खत्म करेगी 1 चीज, स्टडी में भी हुआ साबित

इसे भी पढ़ें-हरी मटर के भी है नुकसान, 5 बीमारियों में बिल्कुल भी न करें सेवन, सेहत पर पड़ेगा उल्टा असर

Tags: Health, Health tips, Lifestyle



Source

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Most Popular

To Top