स्वास्थ्य

बहुत अधिक ठंडा पानी पीने से बढ़ सकता है हार्ट रेट, जान लें चिल्ड वाटर पीने के अन्य नुकसान

बहुत अधिक ठंडा पानी पीने से बढ़ सकता है हार्ट रेट, जान लें चिल्ड वाटर पीने के अन्य नुकसान


Cold Water Drinking Side Effects: गर्मी के मौसम में जब तक एक बोतल ठंडे पानी से गला तर ना कर लें, तब तक प्यास ही नहीं बुझती. इस मौसम में सादे पानी को कोई नहीं पूछता है. चिलचिलाती धूप से घर आते ही फ्रिज का ठंडा पानी पी लेने में तन-मन को ठंडक और तृप्ति तो जरूर महसूस होती है, लेकिन यह आपको बीमार भी कर सकता है. गर्मी के मौसम में पानी पीना डिहाइड्रेशन से बचने के लिए जरूरी है, लेकिन बहुत अधिक ठंडा पानी पीना सेहत को कुछ नुकसान भी पहुंचा सकता है. आइए जानते हैं, किस तरह अधिक ठंडा पानी पीना सेहत के लिए हानिकारक (Side Effects of cold water) हो सकता है.

अधिक ठंडा पानी पीने के नुकसान

हार्ट रेट होता है कम
गार्डियन डॉट एनजी में छपी एक रिपोर्ट के अनुसार, ठंडा पानी पीने से हृदय गति कम हो जाती है. यह शरीर के अनैच्छिक कार्यों को नियंत्रित करने वाली तंत्रिका को उत्तेजित करता है, जिसे वेगस तंत्रिका (Vagus nerve) कहा जाता है. यह नर्व नवर्स सिस्टम का महत्वपूर्ण हिस्सा होता है. चूंकि, वेगस नर्व पानी के कम तापमान से सीधे प्रभावित होती है, जिससे हृदय गति अंततः धीमी हो जाती है. यह दिल के लिए सही नहीं होता है, क्योंकि इससे हार्ट से संबंधित कई अन्य समस्याएं हो सकती हैं.

इसे भी पढ़ें: खड़े होकर पानी पीने के हो सकते हैं नुकसान, हो जाएं सावधान

कब्ज की समस्या हो सकती है
यदि आप लगातार ठंडा पानी पीते हैं, तो आपको कब्ज की समस्या हो सकती है. जब आप ठंडा पानी पीते (Thanda pani peene ke nuksan) हैं, तो भोजन शरीर से गुजरते समय सख्त हो जाता है. आंतें भी सिकुड़ जाती हैं, जो कब्ज के प्रमुख कारणों में से एक है. एक शोध में कहा गया है कि कमरे के तापमान पर पीने का पानी पाचन प्रक्रिया में मदद करता है.

इसे भी पढ़ें: Hot Water Benefits at Night: सुबह ही नहीं रात को भी गर्म पानी पीने से मिलते हैं कई फायदे

सिरदर्द हो सकता है
बहुत अधिक ठंडा पानी या बर्फ वाला पानी पीने से ब्रेन फ्रीज की समस्या हो सकती है. यह रीढ़ की कई संवेदनशील नसों को ठंडा करता है और तुरंत ही ये आपके मस्तिष्क को संदेश भेजते हैं, जिसके बदले में सिरदर्द होने लगता है. साथ ही जिन लोगों को साइनस की समस्या है, उनके लिए भी मुसीबत बढ़ सकती है.

पाचनशक्ति हो सकती है खराब
बहुत अधिक ठंडा पानी पीने से पाचन तंत्र प्रभावित होता है. इससे खाना पचने में दिक्कत हो सकती है, कब्ज, पेट दर्द, जी मिचलाना, पेट फूलना जैसी समस्याएं भी हो सकती हैं। जब शरीर में ठंडा पानी जाता है, तो शरीर के तापमान से मेल नहीं खाता. ऐसे में ठंडा पानी शरीर में पहुंचकर पेट में मौजूद भोजन को पचाना मुश्किल कर देता है.

मोटापा कम करने में आ सकती है दिक्कत
जब आप बहुत अधिक ठंडा पानी पीते हैं, तो शरीर में मौजूद फैट बर्न होने में मुश्किल आती है. ठंडा पानी शरीर के फैट को सख्त बना देता है, जिससे वसा को जलाने में समस्या आने लगती है. वजन कम करने वालों को बहुत सीमित मात्रा में ठंडा पानी नहीं पीना चाहिए.

Tags: Health, Health tips, Lifestyle



Source

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Most Popular

To Top