स्वास्थ्य

पीरियड्स समय पर नहीं आते तो एनीमिया के साथ हो सकते हैं ये बड़े कारण

पीरियड्स समय पर नहीं आते तो एनीमिया के साथ हो सकते हैं ये बड़े कारण


Reason for irregular periods: महिलाओं में पीरियड हार्मोनल चेंजेस के कारण आमतौर पर हर महीने होते हैं. जो लगभग 21 से 30 दिनों की अवधि में सामान्य रूप से होते हैं. लेकिन कई बार पीरियड्स असामान्य और अनियमित हो जाते हैं, जिसके कई कारण हो सकते है. ज्यादातर महिलाओं की शिकायत होती है कि उनकी पीरियड समय पर नहीं होते या अनियमित होते हैं. सामान्य तौर पर पीरियड्स प्रेग्नेंसी के दौरान मिस होते है, लेकिन अगर आप ऐसा कुछ प्लान नहीं कर रही हैं और फिर भी आपके पीरियड्स अनियमित होते हैं तो इसकी कई वजह हो सकती है.
आजकल की भागदौड़ भरी जिंदगी में कई बार तनाव और स्ट्रेस के कारण भी मासिक चक्र में बदलाव आ सकते हैं. लेकिन अगर अक्सर पीरियड्स अनियमित होते हैं तो उसके गंभीर कारण भी हो सकते हैं. अनियमित पीरियड्स का एक बड़ा कारण एनीमिया भी हो सकता है, 25% गैर गर्भवती महिलाएं एनीमिया से ग्रस्त होती है, जिसके कारण माहवारी यानी मेंसुरेशन साइकल प्रभावित हो सकता है.

यह भी पढ़ें- हाई ब्लड प्रेशर की दवाओं के इस्तेमाल से कम किया जा सकता है आर्टरी के फटने का रिस्क – स्टडी

अनियमित पीरियड्स के कारण –
एनीमिया –
एन सी बी आई के अनुसार एनीमिया का अर्थ होता है शरीर में रक्त हानि जो खून की कमी के कारण होता है. एनीमिया अधिकत आयरन, विटामिन बी12 जैसे पोषक तत्वों की कमी के कारण होता है. जिससे मेंसुरेशन साइकल प्रभावित होने के साथ कमजोरी, थकान, सिर दर्द और चक्कर आने की समस्याएं भी हो सकती हैं.एनीमिया का सही समय पर इलाज होना आवश्यक है, क्युकी पीरियड्स के दौरान हिमोग्लोबिन काफी गिर जाता है,जिससे आपको परेशानी हो सकती है.

थायरायड –
थायरायड ग्रंथि शरीर में मेटाबॉलिज्म को नियंत्रित करती है. थायरायड संबंधित समस्या होने का असर अक्सर पीरियड्स पर पड़ सकता है.

दिनचर्या में बदलाव –
कई बार स्ट्रेस, व्यस्त शेड्यूल, भागदौड़ या डेली रूटीन में बदलाव आने पर पीरियड्स अनियमित हो सकते हैं. ऐसा होना ज्यादातर सामान्य है, सामान्य दिनचर्या में वापस आने पर यह खुद ब खुद ठीक हो सकता है.

दुबलापन –
एक स्वस्थ शरीर में ही सभी क्रिया ही आसानी से होती है, अगर आपके शरीर में पर्याप्त फैट नहीं है तो आपके पीरियड्स अनियमित हो सकते हैं क्योंकि पीरियड्स के लिए हेल्दी वेट होना जरूरी होता है.

यह भी पढ़ें- 20 से 25 वर्ष के युवक-युवतियां खानपान में शामिल करें पौष्टिक चीज़ें, एक्सपर्ट के बताए ये डाइट चार्ट अपनाएं

मोटापा –
ज्यादा वजन की महिलाओं को अनियमित पीरियड्स की समस्या होती है. मोटापे की वजह से पीरियड्स अनियमित हो सकते हैं हालांकि यह समस्या किसी को भी हो सकती है लेकिन मोटापा इसकी  मुख्य वजह मानी जा सकती है.

ब्रेस्टफीडिंग –
कई बार प्रेग्नेंसी के बाद महिलाओं को पीरियड्स ब्रेस्टफीडिंग करने के समय तक नहीं होते हैं. ब्रेस्टफीडिंग भी अनियमित पीरियड्स का कारण माना जा सकता है. कई बार मेंसुरेशन साइकल में अनियमितता स्ट्रेस और रोजमर्रा की भागदौड़ के कारण हो सकता है, जो कई बार खुद ही नियमित हो सकता है.लेकिन अगर ऐसा हर बार होता है तो चिकित्सक से सलाह अवश्य लेनी चाहिए क्योंकि ऐसा होना कई बार सामान्य नहीं होता है.

Tags: Health, Health tips, Life



Source

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Most Popular

To Top