स्वास्थ्य

डायरिया से जल्‍द राहत पाने के लिए जानें क्‍या खाएं और क्या न खाएं

डायरिया से जल्‍द राहत पाने के लिए जानें क्‍या खाएं और क्या न खाएं


हाइलाइट्स

डायरिया शरीर में पानी की कमी के कारण हो सकता है.
डायरिया होने पर लिक्विड डाइट फायदेमंद हो सकती है.
डायरिया की स्थिति में अधिक लूज मोशन और उल्‍टी आ सकती है.

Do’s and Don’ts in Diarrhea: डायरिया एक ऐसी स्थिति है, जो बैक्‍टीरिया, वायरस, इंफेक्‍शन और कमजोर पाचन प्रक्रिया के कारण होता है. डायरिया होने पर ए‍क दिन में 3-4 लूज मोशन, उल्टी और पेट दर्द जैसे लक्षण महसूस हो सकते हैं. मल के माध्‍यम से जब शरीर का अधिकतर पानी बाहर निकल जाता है तो व्‍यक्ति आवश्‍यक रूप से इलेक्‍ट्रोलाइट्स भी खो देते हैं. इलेक्‍ट्रोलाइट्स वह जरूरी मिनिरल होता है, जो ब्‍लड, टिशू और अन्‍य तरल पदार्थो में पाया जाता है. ये शरीर को एनर्जेटिक बनाए रखने का काम करता है. डायरिया होने पर डाइट और हाइजीन का विशेष ध्‍यान रखना चाहिए. वहीं, कैफीन और सोडे का सेवन बिल्‍कुल नहीं करना चाहिए. डायरिया में क्‍या सही है और क्‍या नहीं इसके बारे में जानना बेहद ज़रूरी है. 

ये भी पढ़ें: लंबी उम्र तक हेल्‍दी और यंग दिखने के लिए ये हैं कारगर ट्रिक्‍स, डॉक्‍टरों ने बताया तरीका

डायरिया में क्‍या है सही
एवरीडेहेल्‍थ डॉट कॉम के अनुसार, डायरिया होने के दौरान या बाद में कई चीजों का ध्‍यान रखना पड़ता है. खासकर खाने और पीने में की गई लापरवाही शरीर को नुकसान पहुंचा सकती है. 

लिक्विड चीजें अधिक पिएं
डायरिया होने पर शरीर अधिक कमजोर और शिथिल हो जाता है. ऐसे में जरूरी है कि डाइट में लिक्विड चीजों को शामिल किया जाए. जब भी व्‍यक्ति मल त्‍यागे करे तो उतनी बार उसे एक कप पानी या जूस का सेवन करना चाहिए. पानी के साथ-साथ डाइट में पीडियालाइट, फलों का जूस, कैफीनमुक्‍त सोडा व सूप शामिल किया जा सकता है. लिक्विड चीजों में नमक और शक्‍कर दोनों होनी चाहिए. 

करें हर्बल टी का सेवन
डायरिया में हर्बल टी फायदा पहुंचा सकती है. डायरिया में ग्रीन टी, कैमोमाइल टी, हल्‍दी और अदर‍क वाली चाय ली जा सकती है. हर्बल टी में कई जड़ी बूटियां होती हैं, जो पेट की समस्‍या में राहत दिला सकती है. 

एक बार में कम खाएं
पेट का अधिक भरा रहना भी लूज मोशन और दर्द का कारण बन सकता है, इसलिए दिन में तीन बड़े मील लेने की बजाय पांच छोटे मील लिए जा सकते हैं. इससे आंत को खाना पचाने का अधिक मौका मिलेगा. 

डायरिया में क्‍या है गलत

अधिक गर्म खाना खाने से बचें.
डायरिया में कैफीन, अल्‍कोहल और सोडा पीने से बचें.
सिर्फ भूख लगने पर ही खाएं.
गैस होने पर फल और सब्जियों का सेवन न करें.
फ्राइड फूड से बनाएं दूरी.
डायरिया में डेयरी प्रोडक्‍ट का सेवन न करें.
एक्सरसाइज न करें.
हाइजीन का विशेष ध्‍यान रखें.

ये भी पढ़ें: अपने ब्लेडर को हेल्दी बनाए रखने के लिए अपनाएं ये 5 टिप्स

डायरिया की समस्‍या वैसे तो अधिक गर्मी और बरसात में होती है, लेकिन साफ-सफाई और पानी का ध्‍यान न रखने पर ये समस्‍या सर्दी के मौसम में भी हो सकती है, इसलिए हाइजीन का विशेष ध्‍यान दें.

Tags: Health, Lifestyle



Source

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Most Popular

To Top