स्वास्थ्य

गर्भवती महिलाओं को जरूर पीना चाहिए नींबू का जूस, प्रेग्नेंसी में होने वाली कई समस्याओं से मिलेगा छुटकारा

गर्भवती महिलाओं को जरूर पीना चाहिए नींबू का जूस, प्रेग्नेंसी में होने वाली कई समस्याओं से मिलेगा छुटकारा


Benefits of Lemon Juice in Pregnancy: गर्भावस्था में फलों को डाइट में शामिल करना बहुत जरूरी होता है, क्योंकि इनमें कई तरह के मिनरल्स और विटामिंस होते हैं. वैसे, कुछ फल ऐसे भी होते हैं, जिन्हें प्रेग्नेंसी (Pregnancy) में अधिक खाने से बचना चाहिए. जहां तक खट्टे फलों की बात है, तो प्रेग्नेंट महिलाओं को सिट्रस फ्रूट्स का सेवन जरूर करना चाहिए. इनमें नींबू, संतरा, बेरीज, अंगूर आदि शामिल होते हैं. खट्टे फलों में विटामिन सी प्रचुर मात्रा में होता है, जो इम्यूनिटी को मजबूत बनाता है. प्रेग्नेंसी में रोग प्रतिरोधक क्षमता को मजबूत करना बेहद जरूरी होता है, ताकि आप किसी भी तरह के इंफेक्शन, बीमारियों से बची रहें. ऐसे में नींबू का जूस आप जरूर पिएं. नींबू पानी, नींबू वाली शिकंजी आदि पीने से प्रेग्नेंसी में होने वाली समस्याओं से बचा जा सकता है.

इसे भी पढ़ें: सुबह की शुरुआत नींबू पानी के साथ, कई बीमारियां रहेंगी दूर!

प्रेग्नेंसी में नींबू का जूस पीने के फायदे

  • प्रेग्नेंसी में डिहाइड्रेशन से खुद को बचाकर रखना चाहिए. फलों से तैयार जूस पीने से शरीर हाइड्रेटेड रहता है, साथ ही कई न्यूट्रिशनल लाभ भी शरीर को मिलते हैं. नींबू में विटामिन सी अधिक होता है, जो शरीर की इम्यूनिटी मजबूत करता है. नींबू पानी पानी से जी मिचलाना, उल्टी, गैस आदि की समस्या भी दूर होती है.
  • अधिकतर महिलाओं को गर्भावस्था में कब्ज, अपच की समस्या होती है. नींबू का जूस इर्रिटेबल बाउल मूवमेंट को कंट्रोल करता है, जिससे कब्ज, डायरिया जैसी समस्याओं से बचाव होता है.
  • विटामिन सी के अलावा, नींबू एक शक्तिशाली एंटीऑक्सीडेंट्स भी है, जो शरीर से गंदगी, फ्री रैडिकल्स को साफ करता है. यह एक क्लिंजर का काम करता है.
  • गर्भ में पल रहे शिशु के लिए भी नींबू फायदेमंद है. नींबू में पोटैशियम होता है, हड्डियों, नर्व सेल्स, दिमाग के विकास के विकास के लिए जरूरी होता है.

इसे भी पढ़ें: Benefits of Watermelon: गर्मी में प्रेग्नेंट महिलाओं को जरूर खाना चाहिए तरबूज, जानें फायदे

  • अक्सर कुछ महिलाओं को प्रेग्नेंसी के आखिरी महीनों में हाई ब्लड प्रेशर की समस्या हो जाती है, जो मां-बच्चे दोनों की जान के लिए खतरा हो सकता है. इसमें समय से पूर्व बच्चे को जन्म देने की नौबत आ जाती है. कुछ शोध के अनुसार, नींबू की पत्तियों का रस या सत ब्लड प्रेशर लेवल को कम कर सकता है. नींबू के रस में पोटैशियम, मैग्नीशियम होता है, जो उच्च रक्तचाप को कम करता है.
  • प्रेग्नेंसी के दौरान होने वाले पैरों में सूजन को दूर करने के लिए भी आप नींबू पानी का सेवन कर सकती हैं. एक गिलास गुनगुने पानी में एक छाटा चम्मच नींबू का रस मिलाकर पीने से पैरों में सूजन की समस्या कम हो सकती है. आप गर्म पानी में थोड़ा नींबू का रस, सेंधा नमक मिलाकर स्नान कर सकती हैं. इससे सूजन, दर्द से छुटकारा मिलेगा.

(Disclaimer: इस लेख में दी गई जानकारियां और सूचनाएं सामान्य जानकारी पर आधारित हैं. Hindi viralfloat इनकी पुष्टि नहीं करता है. इन पर अमल करने से पहले संबंधित विशेषज्ञ से संपर्क करें.)

Tags: Health, Health tips, Lifestyle



Source

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Most Popular

To Top