स्वास्थ्य

कान का मैल साफ करने के लिए क्या हाइड्रोजन पेरोक्‍साइड का इस्‍तेमाल सेफ है? यहां जानें जरूरी बात

कान का मैल साफ करने के लिए क्या हाइड्रोजन पेरोक्‍साइड का इस्‍तेमाल सेफ है? यहां जानें जरूरी बात


हाइलाइट्स

ईयरवैक्‍स को निकालने के लिए केमिकल का प्रयोग है सुरक्षित.
कान के मैल को प्रा‍कृतिक रूप से साफ होने दें.
हाइड्रोजन पेरोक्‍साइड की कम मात्रा का प्रयोग करना सुरक्षित हो सकता है.

Use of Hydrogen Peroxide- अधिकांश लोग बचपन से रुई के फाहे से अपने कान साफ करते आ रहे हैं, लेकिन मेडिकल कम्‍यूनिटी ने ये स्‍पष्‍ट कर दिया है कि कान को साफ करने का ये तरीका सुरक्षित नहीं है. इससे कान के परदे में छेद हो सकता है या ईयरवैक्‍स यानी कान का मैल धक्‍के से अंदर की ओर जा सकता है. इसी के चलते ईयरवैक्‍स को साफ करने के लिए हाइड्रोजन पेरोक्‍साइड का उपयोग किया जाने लगा है. ये एक प्रकार का लिक्विड केमिकल है जिसे कान में डालने से मैल फूल कर अपने आप बाहर आ जाता है.

अधिकतर ईयर ड्रॉप्‍स में इसका इस्‍तेमाल किया जाता है. लेकिन ये कान के लिए कितना सुरक्षित है और इसका प्रयोग कैसे किया जाना चाहिए, चलिए जानते हैं इसके बारे में.

कान से लिए कितना सुरक्षित है हाइड्रोजन पेरोक्‍साइड

ये भी पढ़ें: सर्दियों में जरा सी चूक बच्‍चे को दे सकती है निमोनिया, ऐसे करें लक्षणों की पहचान

पिछले कुछ सालों से ईयरवैक्‍स को निकालने के लिए हाइड्रोजन पेरोक्‍साइड का प्रयोग किया जा रहा है. हेल्‍थ डॉट कॉम के मुताबिक जो लोग कभी-कभार कान साफ करते हैं उनके लिए हाइड्रोजन पेरोक्‍साइड का प्रयोग पूरी तरह से सु‍रक्षित माना जाता है. इससे कान, नाक और गले में किसी प्रकार की समस्‍या नहीं होती. ये कान की अंदरुनी त्‍वचा को धूल, इंफेक्‍शन और एजर्ली से नुकसान पहुंचाने से रोकने का काम करता है.

हाइड्रोजन पेरोक्‍साइड की कितनी मात्रा है सुरक्षि
हाइड्रोजन पेरोक्‍साइड का प्रयोग कान के लिए सुरक्षित माना जाता है लेकिन यदि इसका नियमित प्रयोग करते हैं तो इसकी कम मात्रा का इस्‍तेमाल किया जा सकता है. कान में हाइड्रोजन पेरोक्‍साइड कंसंट्रेशन का प्रयोग 10 प्रतिशत से अधिक नहीं करना चाहिए. केमिकल को डायरेक्‍ट कान में न डालकर इसे पानी में मिलाकर यूज कर सकते हैं. 1 चम्‍मच हाइड्रोजन पेरोक्‍साइड के साथ 1चम्‍मच पानी का प्रयोग किया जा सकता है.

हाइड्रोजन पेरोक्‍साइड के साइड इफेक्‍ट
माना कि कान साफ करने के लिए हाइड्रोजन पेरोक्‍साइड का प्रयोग कभी-कभार किया जा सकता है लेकिन इसका अधिक इस्‍तेमाल करने से कई परेशानियों का सामना भी करना पड़ सकता है.

– हाइड्रोजन पेरोक्‍साइड के अधिक प्रयोग से कान की नली की त्‍वचा और कान के पर्दे को नुकसान पहुंच सकता है.

– कान में दर्द, इंफेक्‍शन या कान के पर्दे में छेद जैसी समस्‍या है तो इसका इस्‍तेमाल कान में मौजूद मसल्‍स को डैमेज कर सकता है.

– हाइड्रोजन पेरोक्‍साइड एक केमिकल है जो कान की नली से धीरे धीरे शरीर में जाता है इसलिए इसके प्रयोग से पहले डॉक्‍टर की सलाह लेना जरूरी है.

ये भी पढ़ें: सर्दी में कच्चा नहीं, भूना लहसुन का करें सेवन, बीमारियों रहेंगी दूर

वैसे तो कान का मैल प्राकृतिक रूप से अपने आप ही साफ हो जाता है लेकिन यदि कान में अधिक मैल है तो हाइड्रोजन पेरोक्‍साइड का प्रयोग किया जा सकता है. लेकिन प्रयोग करने से पहले डॉक्‍टर की सलाह अवश्‍य लें.

Tags: Health, Lifestyle



Source

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Most Popular

To Top