स्वास्थ्य

उल्टी आने या जी मिचलाने से हैं परेशान, डाइट में करें ये चीजें शामिल, इन फूड्स से करें परहेज

उल्टी आने या जी मिचलाने से हैं परेशान, डाइट में करें ये चीजें शामिल, इन फूड्स से करें परहेज


Diet Tips in Nausea and Vomiting: कई बार अंदर से जी मिचलाने (nausea) और उल्टी (Vomiting) जैसा महसूस होने लगता है. ऐसा होने पर कुछ भी खाने-पीने की इच्छा नहीं होती है. लगता है, जो भी खाएंगे, वह बाहर आ जाएगा. उल्टी या मतली में मुंह का स्वाद भी तीखा या कड़वा सा लगने लगता है. जी मिचलाने या उल्टी आने के कई कारण हो सकते हैं जैसे एलर्जी, कोई सर्जरी, प्रेग्नेंसी, कुछ दवाओं का सेवन, हार्मोनल डिसऑर्डर, पेट संबंधित समस्याएं, पेट में कीड़े होना, फूड इन्टॉलरेंस (Food intolerance), कैंसर का इलाज आदि. कई बार अधिक गर्मी के कारण भी उल्टी, मतली की समस्या हो सकती है. जब उल्टी महसूस हो या उल्टी हो जाए, तो शरीर में इलेक्ट्रोलाइट बैलेंस और हाइड्रेटेड बने रहने के लिए खाना-पीना जरूरी हो जाता है. कुछ फूड्स के सेवन से जी मिचलाने, उल्टी की समस्या को कम किया जा सकता है.

इसे भी पढ़ें: हर समय उल्टी जैसा महसूस होने का कारण ओवरईटिंग, तनाव और डर भी हो सकता है

जी मिचलाने में क्या खाएं

  • स्टाइलक्रेज में छपी एक रिपोर्ट के अनुसार, यदि आपको उबकाई या मतली जैसा महसूस हो तो सेब का सेवन करें. इस फल में फाइबर, आयरन होता है. यह शरीर से टॉक्सिन बाहर निकालने में मदद करता है. यह पाचन को भी बढ़ाते है, जिससे आंतों में होने वाली समस्या दूर होती है, मतली से छुटकारा मिलता है. इसे आप काटकर खाएं या जूस पिएं.
  • उल्टी, मतली जैसी समस्याओं में अदरक का एक टुकड़ा मुंह में रहकर चबाएं. अदरक में मौजूद जिंजरोल (Gingerol) जी मिचलाने की समस्या से छुटकारा दिलाता है. जिन लोगों का कैंसर के इलाज में कीमोथेरेपी चल रही हो, उन्हें अदरक जरूर खाना चाहिए. प्रेग्नेंसी में भी मॉर्निंग सिकनेस होने पर इसे खाना फायदेमंद होता है. इसे पानी में उबाल कर पिएं या फिर कच्चा चबाकर खाएं.
  • नारियल पानी पीने से भी उल्टी की समस्या दूर होती है. साथ ही गर्भावस्था में मॉर्निंग सिकनेस, मतली या उल्टी के कारण हुई डिहाइड्रेशन को दूर करने के लिए नारियल पानी पीने बेस्ट है. आप एक गिलास नारियल पानी में नींबू का रस मिलाकर पिएं, उबकाई, जी मिचलाने की समस्या से राहत मिल जाएगा. नारियल पानी में एलोक्ट्रोलाइट्स होता है.

इसे भी पढ़ें: इन वजहों से हो सकती है फूड पॉइजनिंग की समस्या? बेहतर करने के लिए अपनाएं ये तरीके

  • जब भी आपको उल्टी आए या मतली महसूस हो तो एक केला खा लें. पेट के अंदर होने वाली गैस्ट्रिक से संबंधित समस्याएं, मतली, उल्टी को दूर करने के लिए केला बेस्ट फल है. यह पेट की लाइनिंग में म्युकस के निर्माण को बढ़ाता है, जिससे जी मिचलाना ठीक हो जाता है.

जी मिचलाए तो क्या न खाएं
जी मिचलाने या उल्टी होने पर अधिक तेल-मसालेदार फूड्स, जंक फूड्स, पैक्ड फूड्स, बाहर का खाना खाने से परहेज करना चाहिए. इसके अलावा, दूध और दूध से बने खाद्य पदार्थ, रिफाइंड शुगर, सोडा, एल्कोहल आदि के सेवन से बचें, क्योंकि ये सभी चीजें मतली और उल्टी बढ़ाने का कारण बनते हैं. सोडा हार्ट बर्न, अपच का कारण बनता है, साथ ही पेट को नुकसान पहुंचाता है.

Tags: Health, Health tips, Lifestyle



Source

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Most Popular

To Top