मनोरंजन

Kamal Haasan wades into Hindi vs South debate, says ‘we are united’ | हिन्दी VS साऊथ की डिबेट पर कमल हासन ने रखी अपनी राय, कहा – ‘हम अलग भाषा बोलते हैं लेकिन एक हैं’

open-button


दरअसल, फिल्म इंडस्ट्री में बॉलीवुड वर्सेज साउथ अभी भी चल रहा है। अब इस विवाद और पैन इडिंया फिल्मों को लेकर सुपस्टार कमल हासन ने बयान दिया है। उन्होंने कहा कि पैन इंडिया फिल्म हमेशा से बनती आ रही हैं। पैन इंडिया फिल्मों के कॉन्सेप्ट पर कमल ने कहा, पैन इंडिया फिल्में हमेशा से बनती आई हैं। शांताराम जी ने पैन इंडिया फिल्म बनाई। ‘पड़ोसन’ पैन इंडिया ही फिल्म थी। महमूद जी ने तो फिल्मों में तमिल तक बोली हैं। आप ‘मुगल-ए-आजम’ को क्या कहा कहेंगे? ये मेरे लिए पैन इंडिया ही थी। ये कोई नया नहीं है।”

इसके आगे कमल हासन ने कहा, “हमारा देश यूनीक है, अमेरिका के विपरीत हम अलग-अलग भाषाएं बोलते हैं पर हम सब एक हैं। यही हमारे देश की खूबसूरती है।” उन्होंने आगे कहा, “हम हमेशा से ही पैन इंडिया फिल्म बनाते आए हैं। ये इस बात पर डिपेंड करता है कि हमारी फिल्म कितनी अच्छी है। तभी इसे पूरे देश में पसंद किया जाता है। ‘चेम्मई’ एक मलयालम फिल्म है, वह भी पैन इंडिया फिल्म थी। जबकि इसे किसी दूसरी भाषा में डब भी नहीं किया गया था। इसके कोई सब टाइटल भी नहीं थे, फिर भी लोगों से इसे एंजॉय किया।”

आपको बता दें, हाल के दिनों में साउथ की कई फिल्में बॉक्स ऑफिस पर सुपरहिट रही हैं। इसके बाद से दक्षिण भारतीय सिनेमा और बॉलीवुड पर भी काफी बहस देखने को मिली। इस विवाद में फिल्मी सितारों से लेकर राजनेताओं तक ने अपने-अपने हिसाब से बयानबाजी की। तो वहीं इस पूरी बहस पर कमल हसन ने सौ बात की एक बात कहते हुए, भाषा के आधार पर सिनेमा को बांटने वालों को करारा जवाब दिया है। उन्होंने कहा, “मैं भारतीय हूं। आप क्या हैं?” इसके आगे बात करते हुए अभिनेता कमल हासन ने कहा,”ताजमहल मेरा है और मदुरै मंदिर तुम्हारा है। कन्याकुमारी जितनी तुम्हारी है, कश्मीर भी उतना ही मेरा है।”

बता दें फिल्म इंडस्ट्री में ‘हिंदी भाषा’ को लेकर पिछले महीने बॉलीवुड एक्टर अजय देवगन और कन्नड़ एक्टर किच्चा सुदीप के बीच ट्विटर पर जंग छिड़ गई थी। दरअसल, साउथ इंडस्ट्री के हिट विलेन किच्चा सुदीप ने हिंदी भाषा को लेकर एक बयान दिया था। जिसमें उन्होंने कहा था कि हिंदी हमारी राष्ट्रभाषा नहीं है।

यह भी पढ़ें

रिलीज से पहले 1 जून को गृहमंत्री अमित शाह देखेंगे अक्षय कुमार की ‘पृथ्वीराज’, जानिए किस वजह से रखी जा रहीं स्पेशल स्क्रीनिंग

सुदीप ने एक इंटरव्यू में कहा था, “पैन इंडिया फिल्में कन्नड़ में बन रही हैं, मैं इसपर एक छोटा सा करेक्शन करना चाहूंगा। हिंदी अब नेशनल लैंग्वेज नहीं रह गई है। आज बॉलीवुड में पैन इंडिया फिल्में की जा रही हैं। वह (बॉलीवुड) तेलुगू और तमिल फिल्मों का रीमेक बना रहे हैं, लेकिन इसके बाद भी स्ट्रगल कर रहे हैं। आज हम वे फिल्में बना रहे हैं जो दुनिया भर में देखी जा रही हैं।” किच्चा सुदीप का ये बयान काफी वायरल हुआ।

मगर किच्चा का ये बयान अजय देवगन को खटक गया और उन्होंने ट्वीट किया, “किच्चा सुदीप मेरे भाई, आपके अनुसार अगर हिंदी हमारी राष्ट्रीय भाषा नहीं है तो आप अपनी मातृभाषा की फिल्मों को हिंदी में डब करके क्यूं रिलीज़ करते हैं? हिंदी हमारी मातृभाषा और राष्ट्रीय भाषा थी, है और हमेशा रहेगी। जन गण मन।”

अजय देवगन के इस ट्वीट के बाद किच्चा सुदीप ने भी जवाब दिया। उन्होंने लिखा, “हैलो अजय देवगन सर, मैंने जिस संदर्भ में ये बात कही थी वो आप तक पहुंचने तक पूरी तरह बदल गई है। शायद आपसे जब व्यक्तिगत रूप से मिलूं तो बताऊं कि मैंने ये बयान क्यों दिया था। ये दुख देने, उकसाने या किसी बहस को शुरू करने के लिये नहीं था। मैं ऐसा क्यों करूंगा सर।” इसके आगे किच्चा ने लिखा, “सर मैं हर भाषा को प्यार और सम्मान करता हूं। मैं इस टॉपिक को यहीं छोड़ना चाहता हूं, जैसा कि मैंने उस लाइन को अलग संदर्भ में कहा था। बहुत सारा प्यार और आपको शुभकामनाएं। उम्मीद करता हूं जल्द मिलेंगे।”

बात यहीं खत्म नहीं हुई! इसके बाद किच्चा सुदीप ने एक और ट्वीट किया। उन्होंने लिखा, “और सर अजय देवगन, आपने जो बातें मुझे हिंदी में लिखकर भेजी हैं उसे मैं समझ सकता हूं। ऐसा सिर्फ इसलिए क्यों हम सभी हिंदी का सम्मान करते हैं, प्यार करते हैं और सीखें हैं। बुरा मत मानिएगा सर, लेकिन सोच रहा हूं अगर मेरा जवाब कन्नड़ में लिखा गया होता को स्थिती क्या होती। क्या हम भी भारत के नहीं हैं सर।”

बात करें कमल हासन की फिल्म ‘विक्रम’ की तो यह फिल्म 3 जून को सिनेमाघरों में रिलीज होगी। इस फिल्म में कमल हासन के अलावा विजय सेतुपति और फहाद फासिल के साथ-साथ कालिदास जयराम, एंटनी वर्गीस, शिवानी नारायण और अर्जुन दास जैसे बेहतरीन कलाकार दिखाई देने वाले हैं वहीं अभिनेता सूर्या भी कैमियो में दिखाई देंगे।

यह भी पढ़ें

ट्विटर पर #GoBackModi कर रहा ट्रेंड, जानें मोदी के तमिलनाडु जाने पर क्यों किया जा रहा विरोध?





Source

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Most Popular

To Top