मनोरंजन

gulshan kumar murdered by underworld don abu salem | जब मंदिर के बाहर गुलशन कुमार को मारी गई थीं 16 गोलियां, अंडरवर्ल्ड को यह चीज देने से किया था इंकार

open-button


गुलशन कुमार का जन्म एक पंजाबी परिवार में हुआ. गुलशन कुमार की अंडरवर्ल्ड के द्वारा दिनदहाड़े हत्या करवा दी गई थी

नई दिल्ली

Published: March 03, 2022 12:20:28 pm

हिंदी सिनेमा में एक से बढ़कर एक गायक हुए हैं जिनकी आवाज सीधे फैंस और दर्शकों के दिलों में उतरती हैं। ऐसे ही एक गायक थे गुलशन कुमार। गुलशन कुमार संगीत की दुनिया का एक बड़ा नाम थे। वे टी-सीरीज के संस्थापक थे। गुलशन कुमार भक्ति गीतों के लिए बेहद लोकप्रिय थे। गुलशन कुमार भगवान शिव के बहुत बड़े भक्त थे। उन्होंने कई भजन गए थे. फ़िल्मी गीतों को भी गुलशन ने आवाज दी थी। 5 मई 1956 को नई दिल्ली में जन्में गुलशन कुमार अब इस दुनिया में नहीं है। सालों पहले उनका निधन हो गया था। मंदिर के बाहर उन पर एक के बाद एक कई गोलियां चलाई थी। भगवान शिव के कई मंदिरों का निर्माण गुलशन कुमार ने करवाया था। 80 और 90 के दशक में गुलशन कुमार काफी लोकप्रिय रहे। भक्ति संगीत की दुनिया में गुलशन एक तरफ़ा राज कर रहे थे। हालांकि उनकी लोकप्रियता और सफलता कुछ लोगों को चुभने भी लगी थी।

gulshan kumar

और 12 अगस्त 1997 को गुलशन कुमार की हत्या कर दी गई थी। इस दिन गुलशन कुमार सुबह पूजा करने मंदिर गए हुए थे, जहां उनकी गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। मुंबई के अंधेरी में मौजूद जीतेश्वर महादेव मंदिर के बाहर गुलशन कुमार पर 16 गोलियां चलाई गई थीं। जिसमें उनकी जान चली गई। दरअसल गुलशन कुमार से अंडरवर्ल्ड फिरौती मांग रहा था जो उन्होंने देने से साफ मना कर दिया था। एक वेबसाइट के मुताबिक दाऊद इब्राहिम ने गुलशन कुमार से 10 करोड़ की फिरौती मांगी थी।

यह भी पढ़ें

जब अपनी ही सगाई से अंजान थे ऋषि कपूर, एक्टर को अचानक मिला था बहन से सरप्राइज

gulshan-kumar.jpgबताया जाता है कि हत्यारे ने गुलशन कुमार को 16 गोलियां मारी थी। साथ ही उसने गुलशन कुमार से चिल्ला चिल्लाकर कहा था कि बहुत पूजा कर ली अब ऊपर जाकर पूजा करना। इस घटना के गवाह रहे लोगों ने बताया था कि हत्यारे की गोली सीधे जाकर गुलशन कुमार के सिर पर लगी थी। गुलशन की हत्या के मामले में अब्दुल रऊफ मर्चेंट और अब्दुल राशिद का नाम सामने आया था। इन दोनों आरोपियों को साल 2021 में बॉम्बे हाई कोर्ट ने उम्रकैद की सजा सुनाई थी। गौरतलब है कि मुखबिर ने पहले ही पुलिस को यह जानकारी दे दी थी कि गुलशन कुमार पर खतरा मंडरा रहा है लेकिन पुलिस ने इसे गंभीरता से नहीं लिया।

आपको बता दें जब गुलशन की हत्या हुई तो उससे पहले ही वे म्यूजिक की दुनिया के इंटरनेशनल ब्रांड बन चुके थे। टी-सीरीज का नाम टॉप म्यूजिक कंपनियों में भी होने लगा। रिपोर्ट्स की मानें तो टी-सीरीज का बिजनेस 24 देशों के साथ-साथ 6 महाद्वीप में तक फैला हुआ है। फिलहाल टी-सीरीज कंपनी को गुलशन कुमार के बेटे भूषण कुमार संभाल रहे हैं। कंपनी के तहत कई सुपरहिट फिल्मों को प्रोड्यूसर किया गया है। कंपनी ने ‘रेडी’ (2011), ‘आशिकी 2’ (2013), ‘हेट स्टोरी 4’ (2014), ‘बेबी’ (2015), ‘भाग जॉनी’ (2015), ‘एयरलिफ्ट’ (2016), ‘बादशाहो’ (2017) सहित अन्य फिल्मों को प्रोड्यूस किया है।

यह भी पढ़ें

करियर की शुरुआत में कास्टिंग काउच का दर्द झेल चुकी हैं ये हसीनाएं, पढ़ें दर्दनाक कहानी

newsletter

अगली खबर

right-arrow





Source

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Most Popular

To Top