बॉलीवुड

Sunil Dutt Was Radio Jockey Before An Actor | एक्टर बनने से पहले Sunil Dutt हुआ करते थे रेडियो जॉकी, ऐसे मिली थी पहली फिल्म और Nargis

open-button


सुनील दत्त जितनी शानदार एक्टर थे उतने ही दमदरा फिल्म प्रोड्यूसर, डायरेक्टर और राजनेता भी थे. सुनील दत्त का जन्म 6 जून 1929 को नाका खुर्द, पंजाब के झेलम जिले में हुआ था. वो एक ब्राह्मण परिवार से ताल्लुक रखते थे. उनका अलसी नाम बलराज दत्त था. सुनील अपने परिवार के साथ हरियाणा के यमुना नगर स्थित मंडोली गांव में भारत-पाकिस्तान के बंटवारे के बाद आकर बस गए थे और घर खर्च चलाने के लिए वो एक ट्रांसपोर्टेशन कंपनी ‘B.E.S.T’ में नाइट शिफ्ट की नौकरी किया करते थे. सुनील दत्त ने अपने कॉलेज टाइम में थिएटर में दिलचस्पी दिखाई.

यह भी पढ़ें

Salman Khan की फिल्म ‘कभी ईद कभी दीवाली’ में नजर आएगा ये खतरनाक ‘विलेन’, साउथ के टॉप एक्टर की लिस्ट में शामिल

inner_image_sunil_dutt_1.jpg
सुनिल दत्त की आवाज इतनी दमदार थी कि लोग सुनते ही उनसे इम्प्रेस हो जाया करते थे और उनकी उर्दू पर काफी मजबूत पकड़ थी. इसी बीच उनके एक प्ले के दौरान सुनील की आवाज से इम्प्रेस होकर रेडियो प्रोग्रामिंग हेड ने उन्हें रेडियो चैनल में नौकरी का ऑफर दिया, जिसके लिए उन्होंने हां कह दी और उस समय उनको रेडियो में काम करने के लिए 25 रुपए मिला करते थे. ऐसा कहा जाता है कि रेडियो में काम करते हुए उन्होंने एक बार एक्ट्रेस नरगिस (Nargis) का भी इंटरव्यू लिया था. हालांकि, उस समय दोनों ही नहीं जानते थे कि वो भविष्य में एक दूसरे के हो जाएंगे.

inner_image_sunil_dutt_2.jpg
बताया जाता है कि नरगिस का इंटरव्यू लेते समय सुनील दत्त इस इतने नर्वस हो गए थे कि वो उनसे कोई सवाल ही नहीं पूछ पाए, जिसके बाद नरगिस ने उनको शांत करवाया, तब जाकर उनका इंटरव्यू हो सका. वहीं दिलीप कुमार (Dilip Kumar) का इंटरव्यू लेने पहुंचे सुनील दत्त पर डायरेक्टर समेश सहगल की नजर पड़ी और उन्होंने सुनील को स्क्रीन टेस्ट देने के लिए कहा. साथ ही अपनी अगली फिल्म ‘रेल्वे प्लेटफॉर्म’ का ऑफर दिया. इसक फिल्म के बाद सुनील ने ‘कुंदन’, ‘एक ही रास्ता’, ‘राजधानी’, ‘किस्मत का खेल’ जैसी फिल्मों में काम किया, लेकिन साल 1957 की फिल्म ‘मदर इंडिया’ से उनको पहचान और नरगिन दोनों मिले.
यह भी पढ़ें

क्या आप जानते हैं कि Karan Johar और Twinkle Khanna की लव स्टोरी के बारे में? ऐसे टकराए थे दोनों के दिल

.



Source

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Most Popular

To Top