बॉलीवुड

Shabana Azmi Smita Patil and Shyam Benegal At Cannes 1976 | 46 साल पहले जब सादी साड़ी में Cannes पहुंची थीं Shabana Azmi और Smita Patil, जेब में नहीं थे पैसे खाना खाने के लिए लगाना पड़ा था जुगाड़

open-button


इन एक्ट्रेस के अलावा कान्स में इस साल हेली शाह, तमन्ना भाटिया, पूजा हेगड़े, हिना खान समेत तमाम ऐक्ट्रेसेस शामिल हैं, जो वहां रेड कार्पेट पर अपनी खूबसूरती के जलवे बिखेर रही हैं, लेकिन आज हम आपको कान्स से जुड़ी 46 साल पहले की कहानी बताने जा रहे हैं, जब बॉलीवुड की 70 दशक की टॉप एक्ट्रेस शबाना आजमी (Shabana Azmi) और स्मिता पाटिल (Smita Patil) ने शिकरत की थी. उनके साथ फेमस फिल्ममेकर श्याम बेनेगल (Shyam Benegal) भी पहुंच थे. वहां इनकी फिल्म ‘निशांत’ (Nishant) की स्क्रीनिंग हुई थी.

यह भी पढ़ें

Bhool Bhulaiyaa 2 के बाद अब ‘भूल भूलैया 3’ की शुरू होगी तैयारी?

inner_image_cannes_film_festival_1976.jpg
उस दौरान शबाना आजमी और स्मिता पाटिल सिंपल साड़ी में नजर आई थीं, जिनकी ब्लैक एंड फोटो आज भी सोशल मीडिया पर खूब वायरल होती हैं और देखी जाती है. ऐसी ही कुछ तस्वीरें इन दिनों भी सोशल मीडिया पर नजर आ रही हैं, जिनमें शबाना के साथ स्मिता पाटिल भी नजर आ रही हैं. दोनों नें साड़ी पहनी हुई है और अपनी सादगी में बेइंतहा खूबसूरत नजर आ रही हैं. साथ ही उनके चेहरे पर बेहद प्यारी मुस्कान को भी देखा जा सकता है. इस बारे में बात करते हुए एक बार शबाना ने बताया था ‘हमारे पास पब्लिसिटी मेटेरियल नहीं था और न ही पैसे थे’.

inner_image_cannes_1976.jpg
शबाना ने आगे बताया था कि ‘इसलिए श्याम बेनेगल ने हम दोनों से सबसे सुंदर साड़ी पहनकर वॉक करने को कहा, जिससे की लोगों का ध्यान खींच सकें’. एक्ट्रेस ने बताया था कि ‘जब लोग हमारी ओर अजीबो-गरीब तरीके से देखने लगे तो हमे देखा की वो बार-बार मुड़े कर हमे देख रहे थे और हम उनसे कह रहे थे कि हमारी फिल्म दिखाई जा रही है या फलानी तारीख को दिखाई जाएगी, प्लीज देखने आना और हमने फुल हाउस मैनेज कर लिया था. ये श्याम बेनेगल के विज्ञापन कौशल’. अपने उस अनुभव को याद करते हुए शबाना ने बताया कि ‘उस समय सबको पार्टी करते देख वो खुद को कंगाल महसूस कर रही थीं’.
inner_image_cannes_1976_2.jpg
उन्होंने बताया कि ‘हमें विदेशी मुद्रा में 8 यूएस डॉलर मिले थे. इसलिए जब मैंने कहा कि हमारे पास पैसे नहीं थे तो मेरा मतलब है कि पैसे नहीं थे, क्योंकि ब्रेकफास्ट रूम टेरिफ में शामिल था. इसलिए हम पेटभर कर नाश्ता कर लेते थे और दिन में केवल कॉफी या फ्रेंच फ्राइज से गुजारा करते थे’. खाने के बारे में बात करते हुए शबाना ने बताया कि ‘वो लोग रात का डिनर कान्स की कभी न खत्म होने वाली पार्टियों में करते थे. हम वहां नेटवर्क कम और खाने पर ज्यादा ध्यान देते थे’.
यह भी पढ़ें

‘हमारा बेड़ा गर्क हुआ…’, Akshay Kumar ने ‘पैन इंडिया’ को लेकर आखिर क्यों कही ये बात?

.



Source

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Most Popular

To Top