बॉलीवुड

जब राज कपूर ने करिश्मा कपूर के सामने रखी थी यह शर्त | When Raj Kapoor placed this condition in front of Karisma Kapoor

open-button


16 साल की उम्र में नीली आंखों वाली एक गुड़िया सरीखी लड़की ने फिल्म प्रेम कैदी से बॉलीवुड में डेब्यू किया था। कपूर खानदान से ताल्लुक रखने वाली इस लड़की को लेकर राज कपूर ने कहीं थी बड़ी बात

नई दिल्ली

Updated: January 07, 2022 06:00:50 pm

करिश्मा कपूर 90 के दशक की सुपरहिट एक्ट्रेस थीं। राजा हिंदुस्तानी के बाद करिश्मा ने एक से बढ़कर एक सुपरहिट फिल्में दीं। करिश्मा कपूर हिंदी सिनेमा में एक अलग पहचान बनाई हैं। करिश्मा कपूर ने 1991 में महज 17 साल की उम्र में प्रेम कैदी फिल्म के साथ बॉलीवुड में डेब्यू किया था। लेकिन उन्होंने पहली बार कैमरा फेस निश्चय फिल्म के दौरान किया था जो कि उनकी डेब्यू फिल्म के रिलीज के एक साल बाद यानी कि 1992 में रिलीज हुई थी।

karisma_kapoor

करिश्मा एक के दादा जी ने इनके फिल्मों में आने से पहले ही यह कह दिया था कि लोलो बेबी तुम अभिनेत्री बन जाओगी। लेकिन इसके साथ ही राज कपूर ने करिश्मा के लिए एक शर्त भी रखी थी। आखिर क्या थी यह शर्त आप भी जानिए…

करिश्मा कपूर ने लहरें टीवी को दिए इंटरव्यू में की थीं। करिश्मा कपूर ने इस बारे में बात करते हुए कहा था, “मेरा पूरा परिवार एक्टर और एक्ट्रेस से भरा हुआ है। मेरे पापा और उनके भाई ने भी एक्ट्रेस से ही शादी की है। अगर वह हिरोइनों से शादी कर सकते हैं तो वे काम क्यों नहीं कर सकतीं।” एक्ट्रेस ने अपने इंटरव्यू में बताया कि लोगों को यह गलतफहमी थी कि कपूर परिवार की बहुएं फिल्मों में काम नहीं कर सकतीं।

करिश्मा ने यह भी कहा था कि उनके दादा राज कपूर हमेशा से जानते थे कि वह एक अभिनेत्री बनने जा रही हैं। उन्होंने कहा था, दादा हमेशा कहते थे कि लोलो बेबी, मुझे पता है कि तुम अभिनेत्री बन जाओगी। लेकिन मैं आपको सिर्फ एक बात बताना चाहती हूं, अगर आप एक अभिनेत्री बन जाती हैं, तो आप सबसे अच्छी होती हैं, नहीं तो नहीं।

यह भी पढ़ें

शाहरुख खान की एटली निर्देशित फिल्म ‘लॉयन’ की लीक हुई कहानी

अपने दादा राज कपूर को प्रेरणास्रोत मानने वाली करिश्मा ने अभिनय की एबीसीडी अपनी मां बबिता से सीखी। उन पर अपनी मां का सिर्फ अभिनय ही नहीं बल्कि पूरे व्यक्तित्व पर प्रभाव पड़ा। उन्हीं की देखरेख में करिश्मा पली पढ़ीं। “प्रेम कैदी” में जब पहली बार करिश्मा दर्शकों से रूबरू हुईं, तो उनके लुक को लेकर काफी आलोचना हुई, पर इससे उनका हौसला कम नहीं हुआ। उन्होंने अपने लुक पर काफी मेहनत की और समय बीतने के साथ एक ग्लैमरस और सफल अभिनेत्री के रूप में अपनी पहचान बनाई. गोविंदा, डेविड धवन और करिश्मा की तिकड़ी ने कई यादगार हिट कॉमेडी फिल्में दीं, जिनमें राजा बाबू, कुली नंबर वन और साजन चले ससुराल जैसी फिल्में उल्लेखनीय हैं। इनमें करिश्मा की कॉमिक टाइमिंग लाजवाब रही।

यह भी पढ़ें

शाहरुख खान की एटली निर्देशित फिल्म ‘लॉयन’ की लीक हुई कहानी

newsletter

अगली खबर

right-arrow

.



Source

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Most Popular

To Top