बिज़नेस

SBI told how avoid digital fraud do not follow there can be huge loss | SBI ने बताए डिजिटल फ्रॉड से बचने के तरीके, ना मानने पर हो सकता है भारी नुकसान

sbi-told-how-avoid-digital-fraud-do-not-follow-there-can-be-huge-loss.jpg


SBI Fraud Alert : भारतीय स्टेट बैंक (SBI)ने ग्राहकों की सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए ऑनलाइन फ्रॉड से बचाने के लिए कई जरूरी बाते शेयर की है। इन बातों को ध्यान में रखने से आप डिजिटल फ्रॉड (साइबर धोखाधड़ी ) से बच सकते हैं। वहीं अगर आप इन बातों को नहीं मानते हैं तो आपको भारी नुकसान उठाना पड़ सकता है।

 

Updated: April 25, 2022 07:56:40 pm

SBI Fraud Alert : आज अधिकतर लोग डिजिटल तरीके से पेमेंट करना पसंद करते हैं। बात चाहे बिजली का बिल भरने का हो या किराने की दुकाने में पेमेंट करने का हो लोग ज्यादातर डिजिटल तरीके से ही पेमेंट करना पसंद करते हैं। इसका कारण यह भी है कि ये काफी सुविधा जनक है लेकिन डिजिटल तरीकों से पेमेंट करने करते समय आपको सतर्क करते बहुत जरूरी है।

डिजिटल माध्यमों से पेमेंट को सुविधाजनक से साथ-साथ सुरक्षित बनाने के लिए SBI ने कुछ तरीके बताए हैं, जिन तरीकों से आप सुरक्षित ऑनलाइन पेमेंट कर सकते हैं। SBI ने इंटरनेट बैकिंग, यूपीआई, डेबिट/क्रेडिट, मोबाइल बैंकिंग के साथ-साथ सोशल मीडिया पर जानकारी शेयर करने को लेकर तरीके बताए हैं जिससे डिजिटल फ्रॉड से आसानी पूर्वक बचा जा सकता है।

sbi-told-how-avoid-digital-fraud-do-not-follow-there-can-be-huge-loss.jpg

लॉगिन सेफ्टी: – बदल-बदल के पासवर्ड रखे व कठिन पासवर्ड बनाए । – पासवर्ड बार-बार बदलते रहे – कभी भी अपनी यूजर आईडी, पासवर्ड या पिन को लिखकर न रखे। – याद रखें, बैंक कभी भी आपका यूजर आईडी/पासवर्ड/कार्ड नंबर/पिन/पासवर्ड/सीवीवी/ओटीपी नहीं मांगता है।

– आईडी और पासवर्ड के ऑटो सेव’ या ‘याद रखें’ फीचर को हमेशा डिसेबल करके रखे।इंटरनेट सेफ्टी: – बैंक की वेबसाइट के एड्रेस बार में हमेशा “https” देखें। – फ्री वाई-फाई जो सभी के लिए ओपन होता है उस नेटवर्क का यूज करके ऑनलाइन बैंकिंग का यूज न करे।

– जब आप अपना काम पूरा कर लें तो हमेशा लॉगआउट करें और ब्राउज़र को बंद कर दें।यूपीआई सेफ्टी: – अपने मोबाइल पिन और यूपीआई पिन को अलग बनाए। – किसी भी अज्ञात UPI के पेमेंट रिक्वेस्ट को एक्सेप्ट न करे।

– हमेशा अज्ञात व संदिग्ध पेमेंट रिक्वेस्ट की रिपोर्ट करें। – हमेशा याद रखें कि पिन की जरूरत केवल पैसे ट्रांसफर करने के लिए होती है, प्राप्त करने के लिए नहीं। – अगर आपके बिना कोई लेनदेन हुआ है तो अपने खाते में यूपीआई सेवा को तुरंत बंद कर दें।

डेबिट/क्रेडिट कार्ड सेफ्टी: – एटीएम मशीनों या पीओएस के माध्यम से एटीएम लेनदेन करते समय हमेशा सावधान रहें। – पिन डालते समय कीपैड को ढक ले। – लेनदेन करने से पहले हमेशा ई-कॉमर्स वेबसाइटों की प्रामाणिकता सत्यापित करें।

– ऑनलाइन बैंकिंग के माध्यम से अपने डेबिट कार्ड लेनदेन के लेनदेन को चेक करते रहे। – घरेलू और अंतरराष्ट्रीय लेनदेन दोनों के लिए ई-कॉमर्स प्लेटफॉर्म, पीओएस और एटीएम पर कार्ड लेनदेन की सीमा समय-समय पर जरूरत के हिसाब से बदलते रहे।

मोबाइल बैंकिंग सेफ्टी: – आपके फोन/लैपटॉप/टैबलेट में पासवर्ड सेव करके न रखे। – अपना मोबाइल पिन किसी के साथ शेयर न करें। – अजनबियों द्वारा सुझाया गया कोई भी अनजान ऐप डाउनलोड न करें।

– फोन को सार्वजनिक वायरलेस नेटवर्क (फ्री वाईफाई) से जोड़ने से बचे।सोशल मीडिया सेफ्टी: – जिस व्यक्ति के साथ आप बातचीत कर रहे हैं उसकी पहचान की पुष्टि करें। – किसी भी सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर अपनी व्यक्तिगत/वित्तीय जानकारी शेयर न करें।

– सार्वजनिक स्थानों और किसी भी सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर गोपनीय जानकारी के बारे में चर्चा न करें।

 

newsletter

अगली खबर

right-arrow





Source

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Most Popular

To Top