बिज़नेस

Central Govt Relief For Small Taxpayers More Than 6 Year Old Files Will Not Open | छोटे करदाताओं को सरकार ने दी राहत, अब नहीं खुलेंगी 6 वर्ष पुरानी फाइलें

open-button


इन करदाताओं को नहीं मिली राहत
6 साल पुरानी फाइलों को तो नोटिस नहीं भेजा जाएगा, लेकिन सीबीडीटी ने कहा कि 2015-16 और 2016-17 के लिए कारण बताओ नोटिस भेजा जा सकता है।

यह भी पढ़ें

न्यूजीलैंड के कैंपबेल विल्सन होंगे Air India के नए CEO, यूजर बोले-एक और विदेशी!

इसके लिए 30 दिनों के भीतर रीअसेसमेंट की प्रक्रिया शुरू कर इसकी जानकारी टैक्सपेयर को दी जाए। CBDT ने कर अधिकारियों से ये भी कहा है कि वे करदाताओं को री-असेसमेंट के लिए दो हफ्तों का समय दें।

सीबीडीटी ने इसके साथ ये भी कहा है कि, अगर करदाता की ओर से कोई समय बढ़ाने का अनुरोध आता है तो समय सीमा बढ़ाई जा सकती है।

बता दें कि, सरकार ने बजट में इनकम टैक्स असेसमेंट को फिर से खोलने के समय को 6 वर्ष से घटाकर 3 वर्ष कर दिया था, इसके साथ ही रीअसेसमेंट के लिए नोटिस भी भेजे गए थे। इसके बाद इन नोटिसों को कोर्ट में चुनौती दी गई थी।

चुनौती के बाद आयकर विभाग ने सुप्रीमकोर्ट में इन नोटिस को जारी रखने के लिए अपील दायर की। शीर्ष अदालत ने आयकर विभाग के पक्ष में फैसला सुनाया था, हालांकि इसके बाद अब आयकर विभाग ने छोटे करदाताओं को राहत देने का फैसला किया है।

यह भी पढ़ें

Gold Silver Price Today: सोने-चांदी में भारी गिरावट, 2050 रुपए सस्ती हुई चांदी, जानिए 10 ग्राम सोने का भाव





Source

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Most Popular

To Top