बिज़नेस

Carrying more luggage during the journey may cost rail passengers | ट्रेन में अब ज्यादा सामान ले जाना पड़ेगा महंगा, रेलवे में जारी चेतावनी

open-button


यात्रियों को बुक करवाना होगा लगेज
देश में लंबी दूरी की यात्रा के लिए लोग रेलवे को ज्यादा पसंद करते है। ट्रेन में फ्लाइट के मुकाबले यात्री सफर के दौरान ज्यादा सामान लेकर जाते है। ट्रेन से भी सफर के दौरान सामान ले जाने को लेकर एक सीमा तय की गई है। इसके बावजूद भी कई यात्री बहुत ज्यादा सामान के साथ ट्रेन में सफर करते हैं। कोच के अंदर गैलरी में भी सामान रख देने से आने-जाने को काफी परेशानी होती है। रेलवे ने ऐसे यात्रियों को सलाह दी है कि वे अपने लगेज बुक करवाए।

रेल मंत्रालय ने ट्वीट किया
रेल मंत्रालय ने अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल से ट्वीट कर लोगों को सलाह दी है कि ट्रेन में यात्रा के दौरान ज्यादा सामान लेकर सफर नहीं करें। मंत्रालय ने कहा कि ज्यादा सामान होगा तो सफर का मजा आधा हो जाएगा! अतिरिक्त सामान लेकर ट्रेन से यात्रा ना करें। यदि आपके पास अधिक सामान है तो पार्सल कार्यालय जाकर सामान बुक कराएं।

यह भी पढ़ें

Gold Silver Price Today: 240 रुपए सस्ती हुई चांदी, जानिए 10 ग्राम सोने का भाव

ट्रेन में कितना सामान ले जाने की अनुमति
रेलवे के नियमों के अनुसार, ट्रेन में सफर करने के दौरान यात्री 40 से 70 किलो सामान लेकर जा सकता है। तय सीमा से ज्यादा सामान ले जाने वालें यात्रियों को अतिरिक्त शुल्क देना पड़ेगा। दरअसल रेलवे के कोच के हिसाब से सामान का वजन अलग निर्धारित कर रखा है। रेलवे के अनुसार, 40 किलो वजन के साथ यात्री स्लीपर क्लास में सफर कर सकता है। वहीं एसी टू टीयर तक 50 किलो सामान अपने साथ लेकर जा सकता है। फर्स्ट क्लास एसी की बात करें तो इसमें 70 किलो तक सामान ले जानी की छूट है।

यह भी पढ़ें

ई-कॉमर्स साइटों के फेक रिव्यू पर लगेगी लगाम, जांच करने के लिए सरकार तैयार करेगी प्लेटफॉर्म

ट्रेन यात्रा के दौरान क्या ले जाना मना है
आपको बता दें कि ट्रेन में यात्रा करते समय स्टोप, गैस सिलेंडर, किसी तरह का ज्वलनशील कैमिकल, पटाखे, तेजाब, बदबुदार वस्तुएं, चमड़ा या गीली खाल, पैकेजों में लाए जाने तेल, ग्रीस, घी, ऐसी वस्तुएं जिनके टूटने या टपकने से वस्तुओं या यात्रियों को क्षति पहुंच सकती है। इन प्रतिबंधित वस्तुएं ले जाना भी अपराध है। कोई यात्री इनके साथ पकड़ा जाता है कि उसके खिलाफ कार्रवाई होती है।





Source

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Most Popular

To Top