ऑटोमोबाइल

Used Luxury Cars segment Gaining Popularity top reasons you need know | Used Cars : क्यों बढ़ रही है पुरानी कारों की मांग, लग्जरी सेगमेंट में आया जबदस्त उछाल, जानिए वहज

open-button


सेकेंड-हैंड वाहन अब पुरानी सोच के साथ बदल चुके हैं, अब आपको कोई पुरानी कार खरीदने पर ये नहीं कहेगा कि ये तो यूज्ड कार है। क्योंकि कार की कंडीशन कुछ इस तरह होती है, कि ये एकदम नई लगती हैं। एंट्री-लेवल यूज्ड कारों को दोपहिया वाहनों की तुलना में अधिक सुरक्षित माना जाता है। क्योंकि कार में दोपहिया वाहन के मुकाबले दुर्घटनाओं की संभावना कम होती है। इसलिए पुरानी कारों की खरीदारी की ओर रुझान बढ़ रहा है, जिसके परिणामस्वरूप ग्राहकों की संख्या बढ़ रही है।

ये भी पढ़ें : Citroen C3 : जून में दस्तक देगी यह छोटी हैचबैक कार, 5.5 लाख रुपये की कीमत में Tata Punch के लिए बन सकती है मुसीबत

पुरानी कारों को खरीदने के पीछे सबसे बड़ी वजह है, इनकी कीमत। आज कई वाहन निर्माता कंपनियां यूज्ड कार बाजार में मौजूद हैं, और इनकी बदौलत पुरानी कारों पर लोगों का विश्वास बढ़ गया है। पहले आप डीलर से पुरानी कार खरीदते थे, जिसपर विश्वास करना मुश्किल होता था। लेकिन अब यूज्ड कार मार्केट में मौजूद कंपनियां ना सिर्फ आपको बढ़िया विकल्प तलाशने में मदद करती हैं, बल्कि पुराने वाहनों पर लोन से लेकर इंश्योरेंस तक की भी गारंटी देती हैं।

ये भी पढ़ें : Cheapest 7-Seater Cars: फैमिली कार सेगमेंट की ये हैं बेस्ट 3 गाड़ियां, 26km का माइलेज और शुरुआती कीमत 6 लाख से भी कम

दिल्ली एनसीआर में पुरानी पेट्रोल और डीजल कारों पर रोक लगने के बाद लोगों ने दिल्ली रजिस्टर्ड नंबर गाड़ियों को सेल करना शुरू कर दिया है, और इस क्रम में लग्जरी कारों ने मार्केट में अपनी पकड़ बना ली है। आप देखेंगे कि लग्जरी कारों को कुछ विक्रेता 8 से 10 लाख की कीमत पर भी सेल करते हैं, यानी हैचबैक की कीमत पर आप लग्जरी कारों को खरीद सकते हैं। क्योंकि लग्जरी वाहन मालिक अपनी कारों को स्क्रैप करने के बजाय बेचने का विकल्प अपना रहे हैं।





Source

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Most Popular

To Top