ऑटोमोबाइल

Honda Activa Owner buys Number plate 0001 in 15 lakh | गजब! महज 71 हजार रुपये की Honda Activa के लिए खरीदी 15 लाख रुपये की नंबर प्लेट, जानें क्या है इस व्यक्ति का प्लान

open-button


Honda Activa के लिए खरीदी गई इस फैंसी नंबर की कीमत 15.44 लाख रुपये है, यहां दिलचस्प बात यह है, कि आमतौर पर इस तरह की नंबर प्लेट सेडान या एसयूवी सेगमेंट में लग्जरी कारों के लिए खरीदी जाती है, जिनकी कीमत लाखों में होती है।

नई दिल्ली

Updated: April 18, 2022 09:01:37 pm

जहां पहले सिर्फ वाहन लांचिंग की खबरें चर्चा में रहती थी, वहीं अब वाहन को खरीदना भी आजकल चर्चा का विषय बन गया है। आज एक फैंसी नंबर प्लेट सुर्खियों में है। दरअसल, एक आदमी ने फैंसी नंबर प्लेट के लिए 15 लाख रुपये से ज्यादा खर्च कर दिए। और यह मामला जब ज्यादा दिलचस्प हो जाता है, जब यह नंबर प्लेट उसने सिर्फ 71 हजार रुपये की Honda Activa के लिए खरीदी है।

honda_activa-amp1.jpg

Honda Activa

CH01- CJ-0001 नंबर प्लेट होंडा एक्टिवा के लिए Chandigarh Registering and Licensing Authority द्वारा आयोजित एक नीलामी में 378 फैंसी पंजीकरण नंबर के साथ नीलाम हुई। इस नीलामी में बेची गई नंबर प्लेट से कुल ब्रिकी 1.5 करोड़ रुपये की हुई। वहीं फैंसी नंबर प्लेट (जिसे होंडा एक्टिवा के लिए खरीदा गया) की कीमत 15.44 लाख रुपये लगाई गई। आमतौर पर इस तरह की नंबर प्लेट सेडान या एसयूवी सेगमेंट में लग्जरी कारों के लिए खरीदी जाती है, जिनकी कीमत लाखों में होती है।

कार की नंबर प्लेट पर करेंगी दीवाली के बाद इस्तेमाल

0001 नंबर प्लेट के लिए 2012 में मर्सिडीज बेंज एस-क्लास के एक मालिक ने 26.05 लाख रुपये की बोली लगाई थी। बता दें, होंडा एक्टिवा 0001 चंडीगढ़ के फैंसी नंबर प्लेट के बोली लगाने वाले बृज मोहन एक विज्ञापन एजेंसी चलाते हैं। उनका कहना है कि शुरू में यह संख्या उनके होंडा एक्टिवा पर दिखाई देगी, लेकिन इसे वह बाद में अपनी नई कार में ट्रांसफर करा लेंगे। जिसे वह आगामी दिवाली पर खरीदने की योजना बना रहे हैं।

ये भी पढ़ें : 2022 Maruti Suzuki XL6 : दो दिन बाद मारुति लॉन्च करेगी अपनी नई MPV, ज्यादा स्पेस के साथ मिलेंगे कई हाई टेक फीचर्स

जानकारी के लिए बता दें, यह नीलामी हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने फैंसी नंबर लेने के इच्छुक आम जनता के लिए खोली थी। इस बात की घोषणा खट्टर ने चंडीगढ़ में हुई कैबिनेट की बैठक में की थी, कि ऐसे नंबर ई-नीलामी के जरिए आवंटित किए जाते हैं। बताते चलें, कि हरियाणा में 0001 नंबर प्लेट का उपयोग करने वाले 179 राज्य सरकार के वाहन हैं, और इसका उद्देश्य 5 लाख रुपये से शुरू होने वाली बोली के साथ ई-नीलामी से अतिरिक्त राजस्व उत्पन्न करना था। अनुमान के मुताबिक इन फैंसी नंबर प्लेट की ई-नीलामी से 18 करोड़ रुपये का राजस्व जुटाया जा सकता है।

ये भी पढ़ें : Volkswagen ने शुरू की अपकमिंग सेडान वर्टस की बुकिंग, शानदार डिजाइन और जबरदस्त फीचर्स के साथ 9 जून को आ रही है यह कार

newsletter

अगली खबर

right-arrow





Source

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Most Popular

To Top