धर्म-ज्योतिष

On Ramnavmi, the city of Raja Ram will shine with five lakh lamps | श्रीराम के जन्मदिवस पर 5 लाख दीपकों से रोशन होगी यह नगरी, आज भी यहां राजा हैं राम

open-button


प्रशासन की योजना के अनुसार 5 हजार बच्चे बनेंगे वालेंटियर, फूलों से सजेगी ओरछा नगरी

Updated: March 11, 2022 04:52:35 pm

देश में ओरछा आज भी वह नगरी है जहां के राजा राम माने जाते हैं। ऐसे में इस बार श्रीराम जी का जन्मदिवस यानि राम नवमी का दिन यहां अत्यंत धूमधाम से मनाया जाएगा। कुल मिलाकर यूं कहें कि बुंदेलखंड की अयोध्या ओरछा में इस बार श्रीराम नवमीं का पर्व खास होगा। बेतवा के कंचना घाट से लेकर लक्ष्मी मंदिर तक 5 लाख दीपकों की ज्योति से झिलमिलएगा। इस बार भगवान श्रीराम के जन्मोत्सव के लिए प्रशासन खास तैयारियां कर रहा है। इस आयोजन में सीएम शिवराज सिंह चौहान के आने की संभावना है।

Raja Ram ki Nagri me Ramnavmi Utsav 2022

Raja Ram ki Nagri me Ramnavmi Utsav 2022

कोरोना के चलते पिछले 2 सालों से ओरछा में श्रीराम नवमीं के पर्व का आयोजन नहीं हो सका है। इस बार परिस्थितियां अनुकूल होने पर प्रशासन अब इस आयोजन को ऐतिहासिक बनाने की तैयारी कर रहा है।

कलेक्टर नरेंद्र कुमार सूर्यवंशी ने बताया कि रामनवमीं पर इस बार दोपहर 12 बजे पारंपरिक तरीके से भगवान के जन्म के साथ ही शोभायात्रा निकाली जाएगी। वहीं मंदिर की फूलों से खास सज्जा की जाएगी। पूरे नगर में रंगोली सजेगी और रात को 5 लाख दीपकों से पूरे शहर को प्रकाशित किया जाएगा।

लोगों में उत्सुकता- इस आयोजन की जानकारी से लोगों के मन में उत्सुकता बनी हुई है। ओरछा में दीपावली और राम नवमीं पर की बार 11 हजार, 21 हजार दीपक जलाएं गए है, लेकिन 5 लाख दीपक पहली बार जलाए जाने है। ऐसे में लोग इसकी कल्पना से ही उत्साहित होते दिख रहे है।

7500 लीटर लगेगा तेल
कलेक्टर सूर्यवंशी ने बताया श्रीरामराजा मंदिर परिसर के साथ ही, बेतवा नदी के कंचना घाट एवं लक्ष्मी मंदिर परिसर में 5 लाख दीपक जलाएं जाएंगे। इसके लिए 5 हजार वालेंटियर्स लगेगें और दीपक जलाने इतनी ही मोमबत्ती लगेगी। वही प्रत्येक दीपक में 15 मिली तेल के अनुमान से 7500 लीटर तेल लगेगा।उनका कहना है कि इस आयोजन से स्थानीय कुम्हारों को रोजगार भी मिलेगा। उन्होंने इसके लिए शिक्षा विभाग को निर्देश दिए है कि वह दीपक जलाने के लिए बच्चों को तैयार करें साथ ही स्थानीय लोगों से भी इनमें सहयोग करने की अपील की है।

4- रावण और कुंभकरण ने लिए थे तीन जन्म: जानकर आप भी रह जाएंगे दंग
newsletter

अगली खबर

right-arrow





Source

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Most Popular

To Top