धर्म-ज्योतिष

Basant Panchami to be called Abujh Muhurt reason importance Shiva Yoga | Basant Panchami: क्या है बसंत पंचमी को अबूझ मुहूर्त कहने का कारण, आज शिव योग का महत्व

open-button


locationभोपालPublished: Jan 26, 2023 11:17:37 am

Basant Panchami पर विद्या की देवी मां सरस्वती और कामदेव की पूजा की जाती है। इस दिन को बागेश्वरी जयंती और श्रीपंचमी के रूप में भी जाना जाता है। यह अबूझ मुहूर्त (Abujh Muhurt) माना जाता है, अन्नप्राशन, मुंडन, विवाह जैसे मांगलिक कार्य बिना खास मुहूर्त का विचार किए कराए जाते हैं। लेकिन इस साल बसंत पंचमी (Basant Panchami 2023)पर एक खास मुहूर्त बना हुआ है, जिसमें किया गया नया काम विशेष फलदायी है।

goddess_saraswati.jpg

basant panchami 2023

बसंत पंचमी तिथिः दृक पंचांग के अनुसार बसंत पंचमी तिथि की शुरुआत 25 जनवरी बुधवार दोपहर 12.34 बजे से हुई है,यह तिथि 26 जनवरी सुबह 10.28 बजे संपन्न हो रही है। हालांकि बसंत पंचमी पूजा का मुहूर्त 26 जनवरी सुबह 7.05 बजे से दोपहर 12.33 बजे तक होगी।



Source

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Most Popular

To Top